JAH में भर्ती मरीज की मौत, परिजनों ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा किया

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। झांसी उत्तर प्रदेश से इलाज के लिए आये अंचल के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल जयारोग्य अस्पताल में एक नाबालिग की मौत हो गई। मौत के बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया और डॉक्टरों पर इलाज में लापरवाही के आरोप लगाए और कार्र वाई की मांग की। हंगामे की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुँच गई और मामला दर्ज कर जाँच का भरोसा दिलाया।

जानकारी के अनुसार झांसी उत्तरप्रदेश के द्वारका गाँव में रहने वाले प्रेमनारायण का 15 वर्षीय बेटा राजकुमार सड़क दुर्घटना में घायल हो गया था। उसके सिर में गंभीर चोट थी, झांसी जिला अस्पताल में इलाज के बाद उन्होंने अच्छे इलाज के लिए ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल रिफर कर दिया। सोमवार को राजकुमार को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया जिसकी आज गुरुवार को दौरान इलाज मौत हो गई। मृतक राजकुमार के पिता प्रेम नारायण ने आरोप लगाए कि डॉक्टरों ने इलाज में लापरवाही की है। उन्होंने मुझे वार्ड से बाहर भगा दिया। मैंने जब तबियत खराब होने की बात कही तो फटकार दिया, मैंने कहा कि मरीज की जीभ चिपक रही है दो बूंद पानी डाल लेने दो तो मना कर दी और मेरा बेटा डॉक्टरों की लापरवाही से मर गया। मृतक के पिता ने आरोप लगाए कि डॉक्टरों ने इलाज के लिए पैसे भी मांगे मैंने वो भी दिये फिर भी इलाज में लापरवाही की और बच्चा नहीं बच पाया। मौत के बाद परिजनों ने शव अस्पताल के गेट पर ही रखकर हंगामा कर दिया। हंगामे की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामला दर्ज कर भरोसा दिलाया कि जांच में यदि डॉक्टर की लापरवाही सामने आती है तो कार्रवाई की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here