सिंधिया के दौरे में फेरबदल, 28 की जगह 30 को आयेंगे, डॉक्टरों के साथ नहीं होगी मीटिंग

ग्वालियर। कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के दौरे में एक बार फिर फेरबदल हुआ है। अब वे 28 नवम्बर की जगह 30 नवम्बर को एक दिवसीय दौरे पर आयेंगे। नए कार्यक्रम के मुताबिक उनकी ग्वालियर में डॉक्टरों से कोई मुलाक़ात नहीं होगी । 

प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर चम्बल संभाग के लगातार दौरे कर रहे है और यहाँ विकास योजनाओं का शुभारम्भ, भूमिपूजन कर रहे है । लेकिन बड़ी बात ये है कि उनका दौरा कार्यक्रम हर बार बदलता है अर्थात जो कार्यक्रम आता है उसमें बदलाव निश्चित है। इस बार भी ऐसा ही हुआ है। तय कार्यक्रम के मुताबिक सिंधिया 28 नवम्बर को ग्वालियर आने वाले थे जिसमें उन्हें ग्वालियर और नरवर के कार्यक्रमों में शामिल होना था लेकिन ये दौरा अब 30 को होगा। जिसमें ग्वालियर के कुछ कार्यक्रम निरस्त होकर मुरैना के कार्यक्रम जुड़ गए। नए कार्यक्रम के अनुसार सिंधिया 30 को सुबह शताब्दी एक्सप्रेस से ग्वालियर आयेंगे , वे यहाँ MITS कॉलेज की बैठक में शामिल होंगे,पूर्व विधायक मदन कुशवाह के घर जायेंगे, यहाँ से शिवपुरी जिले के नरवर जायेंगे वहां पावर स्टेशन के। लिए भूमिपूजन करेंगे। लौटकर वे मुरैना जायेंगे यहाँ शादी समारोह में शामिल होकर यहीं से शताब्दी से दिल्ली लौट जायेंगे। 

ग्वालियर में डॉक्टरों के साथ होनी थी मीटिंग, दर्शन सिंह को देना थी पुष्पांजलि

28 नवम्बर को ग्वालियर दौरे में कुछ बड़े कार्यक्रम शामिल थे जिनमें सुबह उनका कांग्रेस कार्यालय पहुंचकर अपने सबसे भरोसेमंद और प्रिय कांग्रेड जिला अध्यक्ष डॉ दर्शन सिंह को पुष्पांजलि देने का कार्यक्रम था। वहीँ नरवर से लौटकर वे डॉक्टरों के साथ मीटिंग करने वाले थे और जयारोग्य अस्पताल का निरीक्षण करने वाले थे माना जा रहा था कि इस मीटिंग के बाद जिला प्रशासन और डॉक्टरों के बीच सात दिनों तक चला आ रहा टकराव समाप्त हो जायेगा लेकिन अब ये टल गया है। इसके अलावा सिंधिया वे मोतीमहल स्थित स्मार्ट सिटी के कंट्रोल कमांड सेंटर और गोपाल मंदिर के पास बनी मल्टी लेवल पार्किंग का भी शुभारम्भ करने वाले थे। अब ये सभी कार्यक्रम निरस्त हो गए हैं।