local-administration-action-on-encroachment-in-Gwalior-

ग्वालियर ।  शहर के हृदय स्थल महाराज बाड़े को अस्थाई अतिक्रमण से मुक्त कर यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने की दिशा में की जा रही कार्रवाई के तहत आज जिला प्रशासन के निर्देश पर नगर निगम ने भारी पुलिस बल की मौजूदगी में उन फुटपाथी दुकानदारों का सामान जब्त कर लिया जो बार बार चेतावनी के बाद भी महाराज बाड़े से नहीं हट रहे थे। 

कलेक्टर अनुराग चौधरी, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन एवं नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन के संयुक्त प्रयास से विशेष अभियान चलाकर महाराज बाड़े को व्यवस्थित किया जा रहा है।  इसी कार्रवाई के तहत शनिवार को पुलिस प्रशासन और नगर निगम के अमले ने अस्थाई दुकानदारों को बाड़े से हटाने की कार्रवाई की। कार्रवाई के दौरान कई बार चेतावनी देने के पश्चात भी सामान न हटाने वाले दुकानदारों का सामान जब्त कर लिया गया। कलेक्टर श्री चौधरी के निर्देश पर शनिवार को पुलिस बल के साथ जिला प्रशासन और नगर निगम के अमले ने महाराज बाड़े पहुँचकर अस्थाई दुकानदारों को महाराज बाड़े से सामान हटाकर हॉकर्स जोन कम्पू पर जाने के लिए कई बार एनाउंस किया। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों द्वारा दुकानदारों को समझाइश भी दी गई।लेकिन   दुकानदारों द्वारा एनाउंस और समझाइश के पश्चात भी सामान नहीं हटाने पर दुकानदारों का सामान जब्त कर फुटपाथी दुकानदारो को बाड़े से हटा दिया।  कार्रवाई के दौरान फुटपाथी दुकानदारों के लगभग 100 बक्से नगर निगम के मदाखलत अमले ने  जब्त कर लिए। सभी दुकानदारों को हॉकर्स जोन कम्पू पर व्यवसाय करने के लिए निगम और प्रशासन द्वारा व्यवस्था की गई है। नगर निगम, पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों द्वारा शनिवार को चलाए गए अभियान के दौरान मौके पर एडिशनल एसपी  सतेन्द्र सिंह, अपर आयुक्त नगर निगम नरोत्तम भार्गव, नगर निगम के मदाखलत अधिकारी सतपाल सिंह चौहान सहित जिला प्रशासन, पुलिस और नगर निगम के अधिकारी मौजूद रहे। कार्रवाई के दौरान दुकानदारों को हॉकर्स जोन में व्यवसाय करने हेतु निगम का अमला हॉकर्स जोन कम्पू पर लगाया गया है। हॉकर्स जोन पर पहुँचने वाले दुकानदारों को व्यवस्थित स्थान भी उपलब्ध कराया जायेगा। नगर निगम द्वारा हॉकर्स जोन कम्पू को व्यवस्थित भी किया गया है। सभी अस्थाई दुकानदारों को यह भी चेतावनी दी गई है कि महाराज बाड़े पर अस्थाई दुकान लगाने पर उनके विरूद्ध कार्रवाई कर सामान की जब्ती की जायेगी। सभी दुकानदार हॉकर्स जोन में पहुँचकर अपना व्यवसाय करें। उनके व्यवसाय को व्यवस्थित करने में पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से मदद करेगा। हालाँकि प्रशासन की इस कार्रवाई का फुटपाथी दुकानदारों ने विरोध भी किया लेकिन प्रशासन की सख्ती के चलते उनकी कोई बात नहीं चली।