Lok Sabha Election 2024 Results: मतगणना की फाइनल रिहर्सल, 4 जून को सुबह 8 बजे से शुरू होगी वोटों की गिनती, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

हर विधानसभा क्षेत्र के गणना अभिकर्ताओं के प्रवेश पत्र के रंग अलग-अलग होंगे। ग्वालियर ग्रामीण के लिये गुलाबी रंग, ग्वालियर के लिये हरा, ग्वालियर पूर्व के लिये लाल, ग्वालियर दक्षिण के लिये नीला, भितरवार के लिये बैगनी व डबरा विधानसभा क्षेत्र के लिये पीले रंग के प्रवेश पत्र जारी किए गए हैं।  

gwalior vote counting
Lok Sabha Election 2024 Results: पूरे देश के साथ साथ ग्वालियर जिले में कल 4 जून को मतगणना होगी, यहाँ मतगणना की सभी तैयारियाँ पूर्ण कर ली गई हैं। एमएलबी कॉलेज में विधानसभा क्षेत्रवार बनाए गए मतगणना कक्षों में सोमवार को फाइनल रिहर्सल हुई। इस अवसर पर कलेक्टर एवं रिटर्निंग अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान, विधानसभा क्षेत्रवार बनाए गए एआरओ एवं मास्टर ट्रेनर्स ने गणना पर्यवेक्षक एवं गणना सहायकों को मतगणना की बारीकियाँ एक बार फिर से विस्तारपूर्वक समझाईं। प्रशिक्षण में माइक्रो ऑब्जर्वर भी शामिल हुए। मतगणना के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं, सीसीटीवी कैमरों से चप्पे-चप्पे पर नजर राखी जाएगी,
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल ग्वालियर जिले के सभी 6 विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना 4 जून को प्रात: 8 बजे से एमएलबी कॉलेज में होगी। मतगणना दिवस को प्रत्याशियों एवं उनके अभिकर्ताओं की मौजूदगी में प्रात: 6:30 बजे स्ट्रांग रूम खोले जायेंगे। ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल शिवपुरी जिले के करैरा व पोहरी विधानसभा क्षेत्र की गणना शिवपुरी स्थित श्रीमंत माधवराव सिंधिया स्नातकोत्तर महाविद्यालय में प्रात: 8 बजे से की जायेगी। पूरे ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में प्राप्त डाक मत पत्रों की गिनती इकजाई रूप से एमएलबी कॉलेज ग्वालियर में होगी।

निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों ने लिया मतगणना स्थल का जायजा 

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान, पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह, भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जिले की मतगणना पर निगरानी रखने के लिये नियुक्त प्रेक्षकगण कृष्णा आदित्य, चन्द्र सिंह इमलाल व सुश्री आई के चौहान ने एमएलबी कॉलेज पहुँचकर मतगणना की तैयारियों का जायजा लिया। मतगणना परिसर एवं उसके आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। लगभग एक हजार जवान मतगणना केन्द्र एवं उसके आसपास तैनात रहेंगे। साथ ही सीसीटीवी कैमरों के जरिए चप्पे-चप्पे पर नजर रहेगी।

प्रात: 8 बजे से डाक मत पत्र और आधा घंटे बाद गिने जायेंगे EVM के वोट 

कलेक्टर एवं रिटर्निंग अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान ने बताया कि डाक मत पत्रों एवं सेवा मतदाताओं द्वारा भेजे गए मतों की गिनती प्रात: 8 बजे शुरू होगी। इसके आधा घंटे बाद इवीएम में दर्ज मतों की गिनती शुरू की जायेगी। दोनों मतगणना समानान्तर रूप से जारी रहेंगी। डाक मत पत्रों की गिनती के लिये अलग से कक्ष निर्धारित किया गया है। ग्वालियर जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों सहित ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल शिवपुरी जिले के करैरा व पोहरी विधानसभा क्षेत्र के डाक मत पत्रों की गिनती भी ग्वालियर के एमएलबी कॉलेज में होगी। रिटर्निंग अधिकारी श्रीमती चौहान ने बताया कि ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल ग्वालियर जिले के सभी विधानसभा क्षेत्र व शिवपुरी जिले के करैरा व पोहरी तहसील के मतों को जोड़कर चक्रवार परिणाम घोषित किया जायेगा।

डाक मत पत्रों के संबंध में आरओ लेंगे अंतिम निर्णय 

श्रीमती रुचिका चौहान ने डाक मत पत्रों की गिनती के लिये हुई फाइनल रिहर्सल में गणना पर्यवेक्षक व गणना सहायकों से कहा कि वे मत पत्र अस्वीकृत करने के संबंध में स्वयं निर्णय न लें। इसका निर्णय भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के तहत एआरओ व आरओ करेंगे। कोई शंका होने पर एआरओ के ध्यान में लाएँ, एआरओ तत्काल संबंधित टेबल पर पहुँचकर काउण्टिंग एजेंट को संतुष्ट करते हुए भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के तहत हर शंका का समाधान करेंगे।

इन स्थितियों में होगी वीवीपैट की पर्चियों की गिनती

गणना की फाइनल रिहर्सल के दौरान मतगणना दलों को बताया गया कि EVM की मतगणना पूरी हो जाने के बाद हर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में पाँच मतदान केन्द्रों के वीवीपैट की पर्चियों की गिनती रेण्डम रूप से अनिवार्यत: की जायेगी। इसी तरह यदि किसी मतदान केन्द्र पर मॉक पोल के बाद वोटों को क्लीयर न कर वास्तविक मतदान प्रारंभ कर दिया होगा तो ऐसी स्थिति में तभी वीवीपैट की पर्चियों की गणना होगी, जब हार-जीत का अंतर उस मतदान केन्द्र से कम होगा। इसके अलावा यदि अभ्यर्थी द्वारा किसी मतदान केन्द्र के वीवीपैट की पर्चियाँ गिनने की मांग की जाती है तो मांग जायज होने पर रिटर्निंग अधिकारी निर्णय लेंगे। यदि कंट्रोल यूनिट व वीवीपैट की पर्चियों की गणना में अंतर आता है तो वीवीपैट की गणना को सही माना जायेगा।

बगैर प्रवेश पत्र के किसी को प्रवेश नहीं, प्रवेश द्वार पर होगी बारीकी से जाँच 

बगैर प्रवेश पत्र के किसी को भी मतगणना परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। मतगणना के प्रवेश द्वार पर हर व्यक्ति की बारीकी से जाँच की जायेगी। अधिकृत प्राधिकार पत्र के साथ-साथ अपना कोई फोटो आईडी कार्ड साथ में लाने के लिये भी कहा गया है।

प्रत्येक विधानसभा के लिए अलग अलग रंग के प्रवेश पत्र 

हर विधानसभा क्षेत्र के गणना अभिकर्ताओं के प्रवेश पत्र के रंग अलग-अलग होंगे। ग्वालियर ग्रामीण के लिये गुलाबी रंग, ग्वालियर के लिये हरा, ग्वालियर पूर्व के लिये लाल, ग्वालियर दक्षिण के लिये नीला, भितरवार के लिये बैगनी व डबरा विधानसभा क्षेत्र के लिये पीले रंग के प्रवेश पत्र जारी किए गए हैं।

मतगणना परिसर में मोबाइल फोन, बीड़ी, सिगरेट, तम्बाकू इत्यादि प्रतिबंधित

मतगणना भवन व परिसर में मोबाइल ले जाना पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा तथा कैंची, ब्लेड, गुटका पाउच, पान, बीड़ी, सिगरेट, माचिस, लाईटर, खाद्य व पेय सामग्री ले जाना पूर्णत: प्रतिबंधित है। मतगणना स्थल पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी किया गया पहचान पत्र साथ में रखना आवश्यक होगा। बिना पहचान पत्र के किसी भी व्यक्ति को मतगणना स्थल पर प्रवेश नहीं दिया जायेगा।

मतगणना परिसर में प्रवेश व पार्किंग व्यवस्था 

मतगणना दिवस यानि 4 जून को कटोराताल की ओर वाले प्रवेश द्वार से विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर ग्रामीण, ग्वालियर पूर्व, भितरवार व डबरा विधानसभा क्षेत्र के गणना अभिकर्ताओं को प्रवेश दिया जायेगा। गणना अभिकर्ता मेडीकल कॉलेज के डॉ. रविशंकर हॉस्टल के बगल में स्थित ओफो की बगिया मैदान व जीवाजी क्लब में अपने वाहन पार्क कर गणना परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर व ग्वालियर दक्षिण के गणना अभिकर्ता अचलेश्वर मंदिर की ओर वाले प्रवेश द्वार से मतगणना परिसर में प्रवेश कर संबंधित मतगणना कक्ष में पहुँच सकेंगे। यहाँ के गणना अभिकर्ताओं के चार पहिया वाहनों के लिये पार्किंग की व्यवस्था चेम्बर ऑफ कॉमर्स के मैदान में रहेगी। मीडिया प्रतिनिधिगण एवं शासकीय अधिकारी-कर्मचारी जीवायएमसी मैदान में अपने चार पहिया वाहन पार्क करने के बाद अचलेश्वर मंदिर वाले प्रवेश द्वार से गणना परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। सभी अभ्यर्थी, निर्वाचन व गणना अभिकर्ता, शासकीय सेवक व मीडिया प्रतिनिधिगण कटोराताल थीम रोड़ के फुटपाथ पर अपने दुपहिया वाहन पार्क कर सकेंगे।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती चौहान ने ओफो की बगिया मैदान, जीवाजी क्लब, चेम्बर ऑफ कॉमर्स एवं जीवायएमसी क्लब के पार्किंग स्थल को मतगणना से संबंधित पार्किंग व्यवस्था के लिये अधिग्रहीत करने के आदेश जारी किए हैं।

एमएलबी कॉलेज में इन कक्षों में होगी मतगणना

ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल ग्वालियर जिले के विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर ग्रामीण की मतगणना एमएलबी कॉलेज के कक्ष क्र.-203 व कक्ष क्र.-204 में होगी। विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर की मतगणना कक्ष क्र.-201 व कक्ष क्र.-202 में होगी, विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर पूर्व की मतगणना कक्ष क्र.-101 व कक्ष क्र.-102 में होगी, विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर दक्षिण की मतगणना कक्ष क्र.-24 व कक्ष क्र.-25 में होगी, विधानसभा क्षेत्र भितरवार की मतगणना कक्ष क्र.-104 में होगी। कक्ष क्र.-104 एवं विधानसभा क्षेत्र डबरा (अजा.) की मतगणना एमएलबी कॉलेज के कक्ष क्र.-21 व कक्ष क्र.-22 में होगी।

विधानसभा क्षेत्रवार इतनी गणना टेबल लगेंगी

रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्वालियर संसदीय क्षेत्र के विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर ग्रामीण, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, ग्वालियर दक्षिण व विधानसभा क्षेत्र 19-डबरा (अजा) के मतों की गिनती के लिये 21–21 गणना टेबल लगाई जायेंगीं। विधानसभा क्षेत्र भितरवार मतों की गिनती 16 टेबलों पर होगी। ईटीपीबीएस एवं डाक मत पत्रों की गिनती 14 टेबलों पर की जायेगी। उधर ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल शिवपुरी जिले के विधानसभा क्षेत्र करैरा (अजा) व पोहरी के मतों की गिनती शिवपुरी में होगी। इन दोनों विधानसभा क्षेत्रों के मतों की गिनती के लिये 16–16 टेबल लगाई जायेंगीं।

विधानसभा क्षेत्रवार इतने गणना चक्र होंगे

ग्वालियर जिले के विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर ग्रामीण, ग्वालियर दक्षिण व डबरा में 13-13 चक्र में मतगणना पूरी होगी। विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर में 15 चक्र, ग्वालियर पूर्व में 16 व भितरवार में 17 चक्रों में गिनती पूर्ण होगी। ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में शामिल शिवपुरी जिले के विधानसभा क्षेत्र करैरा में 20 गणना चक्र व पोहरी में 19 गणना चक्र होंगे।

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ....पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....