35 से अधिक खेतों में लगी आग, गेहूं की खड़ी फसल स्वाहा

Over-35-fields-fire-destroy-wheat-crop

ग्वालियर। मौसम की मार से हमेशा परेशान रहने वाला किसान के सिर पर कोई ना कोई नै मुसीबत हमेशा मुंह बाए खड़ी रहती है। आग बनकर आई ऐसी ही मुसीबत ने ग्वालियर के किसानों के 35 से अधिक खेतों में खड़ी गेहूं की फसल को स्वाहा कर दिया। आग से 175 बीघा में खड़ी फसल नष्ट हो गई लेकिन गाँव वालों ने एकता और समझदारी का परिचय देते हुए। 200 बीघा में खड़ी फसल को नष्ट होने से बचा लिया। खास बात ये रही कि फायर ब्रिगेड की गाड़ी सूचना के एक घंटे बाद पहुंची।

ग्वालियर जिले के महाराजपुरा थाना क्षेत्र के गाँव चकरायपुरा और कुंवरपुरा में दोपहर में आग ने ऐसा तांडव दिखाया कि गाँव में दहशत फ़ैल गई। दोनों गाँवों के खेतों में पककर कटने के लिए तैयार खड़ी गेहूं की फसल अचानक धूं धूं कर जलने लगी। जब तक ग्रामीणों को खेतों में आग लगने की जानकारी लगी तब तक आग ने रौद्र रूप ले लिया था। तत्काल फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई । विकराल रूप ले चुकी आग ने देखते ही देखते 35 से अधिक खेतों को अपनी चपेट में ले लिया जिसने 175 बीघा में खड़ी गेहूं की फसल को नष्ट कर दिया। उधर फायर ब्रिगेड का इन्तजार किये बिना ग्रामीण एकजुट हुए और सभी ने मिलकर रेत,मिट्टी और पानी फेंककर आग पर काबू करने का प्रयास शुरू कर दिया और आग को आगे बढ़ने से रोके रखा जिसके चलते 200 बीघा में खड़ी फसल को बचा लिया गया। फायर ब्रिगेड करीब एक घंटे बाद पहुंची जब तक आग बहुत कुछ नियंत्रित हो चुकी थी। उसके बाद फायर ब्रिगेड ने पानी फेंककर आग पर पूरी तरह काबू किया। आग से करीब 30 लाख रुपए की फसल के नष्ट होने का अनुमान है। उधर आग की सूचना पर गाँव पहुंचे विधायक मुन्नालाल गोयल ने ग्रामीणों को सरकार से मदद का भरोसा दिलाया है।