माधव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस कॉलेज में रैगिंग, पांच छात्र निलंबित

कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि ये वास्तव में रैगिंग नहीं है झगड़ा है िलेकिन चूँकि छात्र ने रैगिंग की शिकायत की है इसलिए पांच छात्रों को निलंबित कर जांच एंटी रैगिंग कमेटी को सौंप दी है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। माधव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस ग्वालियर (MITS Gwalior) में रैगिंग का एक मामला सामने आया है। एक जूनियर छात्र ने पांच सीनियर छात्रों पर मारपीट और पिस्टल अड़ाने की शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद प्रबंधन ने पांच सीनियर छात्रों को निलंबित (Five Senior Students Suspended) कर दिया है और मामला एंटी रैगिंग कमेटी को सौंप दिया है।

देश का प्रतिष्ठित और मध्य प्रदेश का पहला इंजीनियरिंग कॉलेज MITS एक बार फिर चर्चा में है। इस बार चर्चा रैगिंग की है। प्रॉक्टर आर एस जादौन ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ को बताया कि सामान्य तौर पर फ्रेशर के साथ रैगिंग की शिकायत सामने आती है लेकिन ये मामला सेकंड ईयर के छात्र और थर्ड ईयर, फोर्थ ईयर के छात्रों के बीच का है लेकिन चूँकि छात्र ने रैगिंग की शिकायत की है इसलिए उसे आधार माना है।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : आज सोना भड़का, चांदी लुढ़की, भाव देखकर ही खरीदें

प्रोफ़ेसर जादौन ने बताया कि सेकंड ईयर के एक छात्र ने शिकायत की थी कि उसके साथ थर्ड ईयर और फोर्थ ईयर के छात्रों ने मारपीट की है, शिकायत सामने आते ही कुछ ही घंटे में आरोपी छात्रों को निलंबित कर दिया गया है उन्होंने बताया कि जूनियर छात्र की शिकायत पर सीनियर छात्र रितेश तोमर, मयंक भदौरिया, हरिओम भरद्वाज, अभिषेक डंगरोलिया, उत्कर्ष मिश्रा को निलंबित कर दिया है और मामले की जांच एंटी रैगिंग कमेटी को सौंप दी गई है, रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

ये भी पढ़ें – कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज़, सार्वजनिक और प्रतिबंधित अवकाश की सूची जारी, बंद रहेंगे कार्यालय, मिलेगा छुट्टी का लाभ