रिटायर्ड एसआई ने नाबालिग पोती की सहेली के साथ किया दुष्कर्म, फरार

आरोपी पीड़ित परिवार को एफआईआर वापस लेने की चेतावनी दे रहा है और वापस नहीं लेने पर जान से मारने की धमकी दे रहा है, जिससे पीड़ित परिवार काफी भयभीत है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। इंसान जब हैवान बन जाता है तो वो ना उम्र देखता है ना रिश्ता। दुष्कर्म (Rape) का एक ऐसा ही मामला ग्वालियर में सामने आया है जिसमें नाबालिग पोती की सहेली के साथ बुजुर्ग दादाजी ने दुष्कर्म (Rape) कर दिया। आरोपी एसएएफ (SAF) का रिटायर्ड एसआई (SI) है। डरी सहमी मासूम ने परिजनों को ये बात बताई  जिसके बाद मामला पुलिस के पास पहुंचा। पुलिस ने दुष्कर्म (Rape) और पोक्सो एक्ट (Pocso Act) के तहत मामला दर्ज कर लिया है, फिलहाल आरोपी फरार है।

ये भी पढ़ें – शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान-लॉकडाउन समाधान नहीं, इससे बेहतर तो…

जानकारी के मुताबिक ग्वालियर के सिकंदर कंपू क्षेत्र स्थित कोडेरा कोठी के पीछे रहने वाले आरोपी एसएएफ (SAF) से रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर रामदास कुशवाह ने एक ऐसी हारकर की है जिसके बाद से बच्चे अपने दादाजी की उम्र के व्यक्ति से भी खौफ खाने लगेंगे। 60 साल के रामदास ने अपने घर के सामने रहने वाली 10 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ हैवानियत दिखाते हुए दुष्कर्म (Rape) कर दिया। आरोपी ने घटना को उस वक्त अंजाम दिया जब पीड़ित मासूम आरोपी की पोती के साथ उसके घर पर खेल रही थी। शैतान सवार होते ही आरोपी रामदास ने अपनी पोती काे पानी लाने भेज दिया और मासूम के साथ गलत हरकत करने लगा। मासूम के विरोध करने पर आरोपी ने गला दबाकर उसकी हत्या की बात कहकर उसे डराया।

ये भी पढ़ें – डॉक्टर से बदसलूकी के बाद कार्रवाई, पूर्व मंत्री और पूर्व पार्षद पर मुकदमा दर्ज

घटना की शिकार मासूम दो दिन तक तो डरी सहमी रही बाद में उसने रोते हुए मां को पूरी घटना बताई। बच्ची की बात सुनने के बाद पीड़ित परिवार ने थाना गिरवाई पहुंचकर आरोपी रामदास कुशवाह के खिलाफ मामला दर्ज कराया। पुलिस ने दुष्कर्म (Rape) की धाराओं सहित पोक्सो एक्ट में मामला पंजीबद्ध कर लिया।  लेकिन अब आरोपी पीड़ित परिवार को एफआईआर वापस लेने की चेतावनी दे रहा है और वापस नहीं लेने पर जान से मारने की धमकी दे रहा है, जिससे पीड़ित परिवार काफी भयभीत है। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में मामला आने के बाद गिरवाई पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए दबिश दे रही है लेकिन आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। एडिशनल एसपी सतेन्द्र सिंह तोमर का कहना है कि आरोपी की तलाश जारी है जल्दी ही उसकी गिरफ़्तारी होगी।