शिक्षक भर्ती प्रक्रिया शुरु नहीं होने से नाराज अभ्यर्थियों का धरना, ज्ञापन सौंपा

ग्वालियर। मध्य प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा वर्ष 2018 वर्ग 1 और 2 के उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने शनिवार को फूलबाग पर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना दिया। धरने में मौजूद उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने बताया कि तत्कालीन भजपा सरकार ने 2018 में शिक्षक वर्ग 1 और 2 के लिए विज्ञापन निकाला था और 2019 में परीक्षा आयोजित की गई । प्रदेश में लगभग 50 हजार ऐसे अभ्यर्थी हैं जिन्होंने वर्ग 1 व 2 की पात्रता परीक्षा पास कर ली थी। लेकिन कमलनाथ सरकार ने आज तक इनकी काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू नहीं की। जिसके चलते ये सभी उत्तीर्ण अभ्यर्थी अपनी नियुक्ति के लिए दर-दर भटक रहे हैं। सरकार के उदासीन रवैए के चलते अब तक इनकी नियुक्ति नहीं हो पाई है। 

धरना दे रहे उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने बताया कि पिछले दिनों सरकार ने 10 जनवरी से काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू करने की बात कही थी लेकिन अब मालूम हो रहा है कि सरकार इसे अनिश्चितकाल के लिए टालना चाहती है और यदि ऐसा होता है तो हम सड़क पर उतरने के लिए मजबूर होंगे। धरना समाप्ति के बाद सभी ने कलेक्टर को मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री के नाम एक ज्ञापन सौंपा।