मिशन 2023 को लेकर केंद्रीय मंत्री सिंधिया का बड़ा बयान, कांग्रेस पर किया पलटवार

सिंधिया ने कहा कि जिस दिन राम मंदिर की आधारशिला रखी जा रही थी, 5 अगस्त के उस दिन को चुनकर, काले कपड़े पहनकर किस तरीके से कार्यक्रम आयोजन किया गया। यह कांग्रेस की मानसिक विचारधारा को प्रदर्शित करता है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। केंद्रीय इस्पात एवं नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister of Steel and Civil Aviation Jyotiraditya Scindia)  ने भाजपा के मिशन (2023 BJP Mission 2023) को लेकर बड़ा बयान दिया है। ग्वालियर (Gwalior News) में पत्रकारों से बात करते हुए सिंधिया ने कहा कि हमारी ये जो टोली आप देख रहे हैं ये राजनीतिज्ञों की नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आशा के अनुरूप जनसेवकों की टोली है और 2023 में जनता का आशीर्वाद हमें अवश्य मिलेगा।

दो दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर पहुंचे केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जनता के विकास के आधार पर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन के अनुसार, सीएम शिवराज सिंह चौहान के अथक प्रयासों के अनुसार, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की लगन के अनुसार काम कर रही है।

ये भी पढ़ें – BJP ने फिर लहराया जीत का परचम, दो और नगर परिषदों पर किया कब्ज़ा

सिंधिया ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि साल 2023 में हमारी जो टोली है और ये जो टोली आप देख रहे हैं राजनीतिज्ञों की टोली नहीं है बल्कि प्रधानमंत्री जी की आशा के अनुरूप जनसेवकों की टोली है, इस पर जनता का विश्वास बरक़रार रहेगा ।

ये भी पढ़ें – शिवराज सरकार ने GST रजिस्ट्रेशन पर लिया बड़ा फैसला, व्यापारियों को होगा लाभ

काले कपड़े पहनकर कांग्रेस द्वारा प्रदर्शन के सवाल पर सिंधिया ने कहा कि हर राजनीतिक दल अपनी कार्यशैली के अनुसार कार्य करता है। कांग्रेस की क्या कार्यशैली है यह हमने पिछले कई दिनों और वर्षों में देख लिया हैं। जिस दिन राम मंदिर की आधारशिला रखी जा रही थी, 5 अगस्त के उस दिन को चुनकर, काले कपड़े पहनकर किस तरीके से कार्यक्रम आयोजन किया गया। यह कांग्रेस की मानसिक विचारधारा को प्रदर्शित करता है।

ये भी पढ़ें – MPPSC : 4 साल, 1400 पद और 10 भर्ती परीक्षाओं का आयोजन, खर्च हुए 68.46 करोड़ रुपए, फाइनल परिणाम पर संशय बरकरार

गौरतलब है कि केंद्रीय इस्पात एवं नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया 13 और 14 अगस्त के दो दिवसीय प्रवास पर आज ग्वालियर आये। वे यहाँ कई स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद दिल्ली लौट जायेंगे।