किराने की दुकान पर मिले वन्य जीवों के अंग, वन विभाग ने मारा छापा

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। वन विभाग ने ग्वालियर के उपनगर मुरार में स्थित एक किराने की दुकान पर छापा मारकर भारी मात्रा में वन्य जीवों के अंग बरामद किये हैं। इन अंगों में दांत, नाखून, खाल, सींग सहित अन्य अंग शामिल है। बरामद अंगों की कीमत करोड़ों में आंकी जा रही है। वन विभाग ने यहाँ बड़े पैमाने पर तस्करी की आशंका जताई है।

ग्वालियर के मुरार में स्थित वर्षों पुरानी और भूरा पंसारी के नाम से मशहूर एक किराने की दुकान पर गुरुवार देर शाम वन विभाग ने छापा मार कार्रवाई की। भूरा पंसारी की इस दुकान पर किराने के साथ साथ आयुर्वेदिक दवाओं की भी बिक्री की जाती है। वन विभाग को जानकारी मिली थी कि इस दुकान पर वन्य जीवों के अंगों को बेचा जाता है। सूचना के बाद वन विभाग का अमला भूरा पंसारी के यहाँ पहुंचा और कार्रवाई को अंजाम दिया।

वन विभाग की टीम को यहाँ भालू के नाखून, टाइगर के दांत, पेंथर के पंजे, हिमालय हिरन के सींग , उल्लू के नाखून, समुद्री सिफेन और अन्य जीवों के अंग मिले हैं। अभी इनकी सही कीमत नहीं बताई गई है लेकिन बरामद अंगों की कीमत करोड़ों में आंकी जा रही है। वन विभाग ने दुकान से अभी तीन लोगों को हिरासत में लिया है। खबर लिखे जाने तक कार्रवाई जारी थी। वन विभाग ने आशंका जताई है कि यहाँ से बड़े पैमाने पर वन्य जीवों के अंगों की तस्करी की जाती है। अधिकारियों को उम्मीद है कि यहाँ से बड़ा खुलासा हो सकता है