Indore : नकली रेमडेसिविर के जाली स्टीकर बनाने वाले 3 आरोपी धराए, सूरत से किया गिरफ्तार

रेमडेसिविर इंजेक्शन

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना महामारी के हॉट स्पॉट रह चुके इंदौर में कोविड की दूसरी लहर के दौरान ऐसा खुलासा हुआ था जिसने मानवता को शर्मसार कर दिया था। जी हां..हम बात कर है उन शातिर बदमाशों की जिन्होंने गुजरात से लेकर इंदौर सहित मध्यप्रदेश के अन्य शहरों में नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन का गोरखधंधा कर लोगों की जान मुसीबत में डाली थी। इंदौर पुलिस ने इसी मामले में 3 ऐसे आरोपियों को गुजरात के सूरत से गिरफ्तार किया है जो नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन को हुबहू असली जैसा दिखाने के लिए जाली स्टीकर बनाते थे।

कंगना के “आजादी” वाले बयान पर भड़के वरुण गांधी, बोले – इसे मैं पागलपन कहूँ या फिर देशद्रोह?

इंदौर की विजय नगर पुलिस को ये सफलता हाथ लगी है और तीनों ही आरोपियों को कोर्ट में पेश कर दिया गया है। विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी के अनुसार नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन बेचने वाले 21 आरोपियों को पुलिस इसके पहले गिरफ्तार कर चुकी थी। पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ करने पर पुलिस को पता चला था कि नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन के ऊपर लगने वाला स्टीकर को राजू कठेरिया, रंजीत प्रजापति और किशोर पटेल नामक आरोपी गुजरात के मुराबी में छापते थे। जिसके बाद पुलिस की तफ्तीश जारी रही और पुलिस ने तफ्तीश के दौरान ही सूरत से तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ पर पता चला कि मुख्य आरोपियों कौशल वोहरा और पुनीत शाह के कहने पर वो जाली स्टीकर छापते थे। बताया जा रहा है कि तीनों आरोपी सूरत के ही रहने वाले हैं। फिलहाल पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया है।