इंदौर सेंट्रल जेल के 40 बंदियों ने जीती कोरोना से जंग, वापस लौटने पर हुआ स्वागत

इंदौर| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Corona) संकट के बीच राहत भरी खबर भी लगातार सामने आ रही है| मजबूत हौसले के साथ लोग कोरोना को मात दे रहे हैं| क्वॉरेंटाइन सेंटर (Quarantine Center) भेजे गए इंदौर सेंट्रल जेल (Indore Central Jail) के 140 बंदियों में से 40 बंदी कोरोना की जंग जीतकर वापस जेल लौट आये हैं| जेल वापस आने पर जेल में उपस्थित अधिकारी एवं कर्मचारियों ने बंदियों का तालियां बजाकर उत्साहवर्धन करते हुए स्वागत किया|

इन बंदियों में मुख्यतः 10 बंदी वो हैं जिनमें कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण पाए जाने के कारण क्वॉरेंटाइन सेंटर में भेजा गया था| जहां 17 अप्रैल को इनका कोरोना सैंपलिंग कराया गया और 30 अप्रैल को संक्रमित होने की रिपोर्ट प्राप्त हुई थी| जिसके बाद बंदियों को अस्पताल में भर्ती कर उपचार कराया गया| इन 10 बंदियों के कोरोनावायरस निगेटिव आने के बाद शनिवार को जेल में दाखिल कराया गया|

इसी तरह जिन बंदियों में कोरोनावायरस के लक्षण चिकित्सकीय स्क्रीनिंग में पाए गए थे उन बंदियों को संक्रमण से बचाव के लिए उपरोक्त बंदियों के साथ क्वॉरेंटाइन सेंटर भेजा गया | उनमें से 30 बंदियों के कोरोना सैंपल की रिपोर्ट आज निगेटिव प्राप्त होने के बाद स्क्रीनिंग में स्वस्थ पाए जाने पर 30 बंदियों को भी जेल में दाखिल कराया गया| वहीं बंदियों की सुरक्षा व्यवस्था एवं उपचार व्यवस्था में तैनात 16 प्रहरी भी जो कोरोना संक्रमण के कारण क्वॉरेंटाइन सेंटर में क्वॉरेंटाइन किए गए थे इन सभी की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त होने पर sabhi को fir से duty पर taenaat किया गया| वर्तमान में क्वॉरेंटाइन सेंटर में 100 बंदी क्वॉरेंटाइन रखे गए हैं जिनमें से 15 बंदी कोरोना पॉजिटिव उपचाररत है जिनकी कोरोना सैंपलिंग हो चुकी है| लेकिन रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है|