आखिर क्यूं ली TI हाकम सिंह ने अपनी जान, जानकारी जुटाने में लगी पुलिस

टीआई ने क्यो मारी महिला एएसआई को गोली, क्यों कि खुदकुशी ! ये बड़ा सवाल, जांच में जुटा महकमा।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में शुक्रवार को जो कुछ हुआ उसके बाद पूरे पुलिस महकमे में सनसनी फैल गई। दरअसल, इंदौर पुलिस कंट्रोल रूम परिसर में अचानक भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ टीआई हाकम सिंह पंवार ने मुख्यालय पर पदस्थ महिला एएसआई रंजना खाटे पर गोली चलाई जो एएसआई के कान को छूकर निकल गई लेकिन अचानक गोली चलने से घबराई पुलिस अधिकारी मौके पर ही गिर गई जिसके बाद भोपाल टीआई हाकम सिंह पंवार ने खुद को गोली मार दी। जिसके बाद मौके पर पुलिसकर्मी और वरिष्ठ अधिकारी पहुंचे। वही एफएसएल की टीम भी मौके पर पहुंची जिसके बाद टीआई को एम.वाय. अस्पताल ले जाया गया वही एएसआई घायल अवस्था मे इलाज के लिए पहुंचाया गया। बताया जा रहा है कि टीआई की मौत हो चुकी है और अब पुलिस टीआई के खुदकुशी मामले में जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें – यूपी का पहला ट्रांसजेंडर पुलिस सहायता केंद्र लखनऊ में खुला, जारी किए गए दो हेल्पलाइन नंबर, जाने 

बताया जा रहा है कि खुद को गोली मारकर खुदकुशी करने वाले हाकम सिंह पंवार मूलतः उज्जैन के तराना के रहने वाले है। वही इंदौर के खुड़ैल, सराफा, खरगोन के महेश्वर के बाद राजगढ़ में पोस्टिंग के बाद वर्तमान में भोपाल के श्यामला हिल्स में पदस्थ रहे। शुक्रवार दोपहर को टीआई का विवाद महिला एएसआई से अचानक हो गया।  इसके बाद जो हुआ वो सबके सामने है। जहां कमिश्रर ऑफ पुलिस इंदौर हरिनारायणचारि मिश्रा ने मौके पर पहुंचकर मीडिया से बात की और कहा कि प्रथम दृष्टया मामला प्रेम प्रसंग का प्रतीत हो रहा है वही पुलिस अन्य महिला आरक्षकों से पूछताछ कर जांच कर रही है ताकि घटना की वजह का पता चल सके।

यह भी पढ़ें – Agnipath : जानिए अग्निवीर 4 साल बाद कैसे बनेंगे स्थाई सैनिक

इधर, एडिशनल सीपी राजेश हिंगणकर ने बताया कि मामले में रुपये के लेन – देन के एंगल से भी जांच कर रही है। वही पुलिस को कंट्रोल रूम परिसर में स्थित कॉफी हाउस से कल और आज सीसीटीवी फुटेज मिले है जिसके आधार पर पुलिस तफ्तीश में जुटी हुई है। वही जानकारी ये भी सामने आई है कि कॉफी हाउस में टीआई और महिला एएसआई के अलावा कोई तीसरा भी मौजूद था जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। इसके अलावा पुलिस को शुरुआत में ये भी पता चला है साल 2019 में महिला एएसआई किसी के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है इस बारे में पुलिस जानकारी जुटा रही है।

फिलहाल, इस पूरे मामले के सामने आने के बाद सवाल कई उठ रहे है और पूरे मामले के पीछे की असल वजह क्या है इस बात की जानकारी जुटाने में पुलिस जुट गई है।