कॉलेज प्रबंधन के रवैये से नाराज एमबीए स्टूडेंट्स का हंगामा, भविष्य पर संकट

-Angered-by-the-attitude-of-college-management

इंदौर| एड्यूकेशन हब के रूप में अपनी पहचान बनाने वाली प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर के प्रसिद्ध कॉलेज में एमबीए स्टूडेंट्स के भविष्य पर सवाल उठ रहे है। दरअसल, शहर के भौरांसला स्थित मालवा इंस्टीयूट के नाराज छात्र छात्राओं ने आज उस वक्त हंगामा खड़ा कर दिया जब कॉलेज प्रशासन ने उनकी फीस जमा ना किए जाने पर उनके एडमिशन की निरस्त करने का फरमान जारी कर दिया। सभी स्टूडेंट्स ने शैक्षणिक सत्र 2017 – 2018 में बकायदा स्कॉलरशिप के जरिये एडमिशन लिया था लेकिन 2 दिन पहले उन्हें कॉलेज प्रबंधन ने उन्हें जानकारी दी कि अभी तक स्कालरशिप नही आई है लिहाजा आगे पढ़ाई जारी रखने के लिए उन्हें नकद भुगतान करना होगा। स्टूडेंट्स का आरोप है बड़ी संख्या में स्कॉलरशिप के सहारे स्टूडेंट्स पढ़ाई कर रहे है जिन्हें कॉलेज प्रबंधन की ओर से किसी भी प्रकार की मदद नही की जा रही है। कॉलेज के डायरेक्टर को सिर्फ फीस से मतलब है और उन्हें स्टूडेंट्स के भविष्य की चिंता नही जबकि 6 जून एग्जाम फार्म भरने की आखरी तारीख है। कॉलेज प्रबंधन के रवैये से नाराज छात्र छात्राओं ने कॉलेज में हंगामा खड़ा कर दिया और विरोध करते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। हालांकि स्टूडेंट्स का ये भी मानना है एन वक्त पर कॉलेज ने स्कालरशिप ना मिलने की जानकारी दी ऐसे 40 हजार रुपए तक कि फीस भरने के लिए उन्हें कुछ वक्त दिया जाता तो वे इसकी व्यवस्था करने की कोशिश करते लेकिन अब उनका साल बिगड़ रहा है जिसकी जिम्मेदारी कोई भी लेने को तैयार नही है।