इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) के तीन अलग-अलग एटीएम (ATM) में जादूगरी कर 2 लाख 30 हजार रुपए निकालने वाले दो अज्ञात बदमाशों के खिलाफ सराफा पुलिस ने केस दर्ज किया है। दोनों बदमाशों के सीसीटीवी फुटेज (cctv footage) पुलिस को प्राप्त हो गए। जिसके आधार पर उनकी तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें…नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने वैक्सीनेशन महाअभियान को लेकर कही ये बात

दरअसल, दो दिन पहले याने 18 जून को इंदौर में नये और अनूठे तरीके से एटीएम हैकिंग की वारदात सामने आई थी। जिसमे दो टोपीबाज बदमाशों ने एटीएम में लगी कैश डिपॉजिट मशीन में एटीएम लगाकर 10-10 हजार 2 लाख से ज्यादा रुपए निकाले। पैसे निकलते ही हैकर ने मशीन में उंगली फंसा दी, जिससे कैश निकालने वाला सेक्शन चौक होकर वहीं रुक गया। जैसे ही रुपए निकले, इसके बाद एक-एक कर इन्होंने 21 बार ऐसा किया और 2 लाख 10 हजार रुपए निकाल लिए। इस दौरान मशीन एरर बताती रही और पैसा लगातार निकालता रहा। पुलिस के मुताबिक ट्रांजेक्शन होने के बाद जैसे ही पैसे एटीएम से निकलने वाले होते थे बदमाश पैसे निकलने वाली जगह पर हाथ लगाकर पैसे पकड़ लेते थे। और उन्हें एटीएम से निकलने नहीं देते थे। इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होने के कारण ट्रांजेक्शन कैंसल हो जाता जिसके बाद आरोपी पैसे निकाल लेते। आरोपी दोबारा ट्रांजेक्शन करते हैं और फिर रुपए निकालने के बाद फिर हाथ लगा देते हैं। ऐसा करने से उनके खाते में से रुपए भी कम नहीं हो रहे और कई बार रुपए निकाले गए।

यह भी पढ़ें…21 जून से प्रदेशभर की करीब 75 हजार आशा-ऊषा कार्यकर्ता करेंगी आंदोलन, वैक्सीनेशन महाअभियान पर पड़ सकता है असर

शहर के अलग- अलग थाना क्षेत्रों में इसी तरह से वारदात को अंजाम देने वाले टोपीबाज बदमाश कौन है इस बात की जानकारी पुलिस द्वारा जुटाई जा रही है। जल्द ही उनके हुलिए के आधार पर उन्हें गिरफ्तार करने की उम्मीद भी पुलिस जता रही है। सराफा थाना पुलिस के एसआई संतोष मिश्रा ने बताया कि 18 जून को पीवाय रोड़ एटीएम में बदमाशो ने हैकिंग की वारदात को अंजाम दिया था। जिसकी शिकायत पर कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल, सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस तफ्तीश में जुटी हुई है।