अपनी ही सरकार की मुश्किलें बढ़ा रहे कांग्रेस के यह विधायक

इंदौर| कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़कर विधानसभा पहुंचे धार जिले की मनावर सीट से विधायक डॉ. हीरालाल अलावा ने एक बार फिर सरकार की मुहकिलें बढ़ाना शुरू कर दिया है| एक तरफ इंदौर के संझा लोक स्वामी अखबार के मालिक वांटेड जीतू सोनी के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है, सीएम के निर्देश पर माफिया को खत्म करने का अभियान चलाया जा रहा है, वहीं उनकी ही पार्टी के विधायक अलावा ने जीतू सोनी का साथ देने का एलान किया है| 

अलावा ने सोनी के खिलाफ की गयी कार्रवाई को ग़लत ठहराया है| उन्होंने मनावर में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा है कि जीतू सोनी के साथ मिलकर ही मैंने आदिवासी युवा संगठन खड़ा किया है। उन्होंने कहा हमारे विधानसभा क्षेत्र में एक सीमेंट फैक्ट्री ने ग्राम सभाओं को अनदेखा कर गलत तरीके से 32 गावों की जमीन छीनने की कोशिश की। तब जीतू सोनी का अखबार हमारे साथ खड़ा था। ऐसे अखबार के साथ कुछ होगा तो हमारा संगठन उनके साथ खड़ा रहेगा। 

डॉ हीरालाल अलावा दिल्ली एम्स में डॉक्टर थे। अलावा वहां से इस्तीफा देकर मध्यप्रदेश लौटे और अपना जय आदिवासी युवा संगठन बनाया। लेकिन विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया। कांग्रेस की टिकट पर मनावर सीट से वे चुनाव लड़े और विधानसभा तक पहुंचे| विधायक बनने के बाद से ही वे अपनी ही सरकार के फैसलों को चुनौती दे चुके हैं| आदिवासियों के मुद्दों पर अपनी अलग मांगों से सरकार की मुश्किलें बढ़ाते रहे हैं| बताया जाता है कि वे मंत्री बनना चाहते हैं, इसके चलते कई मौके पर वो सरकार की लाइन से हटकर बयानबाजी कर देते हैं| कांग्रेस विधायक हीरालाल अलावा सोनी का खुले मंच से साथ देने का वादा कर पार्टी को असमंजस की स्थिति में डाल रहा है|