लोकायुक्त ने आरक्षक को 5 हज़ार रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर के सराफा इलाके में लोकायुक्त की टीम ने आरक्षक को पांच हज़ार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। शेख कमाल हुसैन निवासी सुभाष मार्ग इंदौर ने लोकायुक्त पुलिस को लिखित शिकायत कर बताया था कि उसके नियोक्ता के द्वारा ठगी का एक प्रकरण दर्ज कराया गया था। जेवरात बनाने का काम करने वाला कमाल हुसैन प्रकरण में गवाह है। न्यायालय में गवाही देने में विलम्ब होने के चलते आरोपी आरक्षक अंकित उपाध्याय नगर सुरक्षा समिति एक सदस्य राजेंद्र तिवारी के माध्यम से 25 हजार रूपये रिश्वत राशि की मांग कर रहा है।

जांच में शिकायत सहीं पाए जाने पर बुधवार को लोकायुक्त पुलिस ने राजेंद्र तिवारी को रिश्वत राशि की अंतिम किस्त 5 हजार रूपये लेते रंगे हाथो गिरफ्तार किया है। इससे पहले अंकित उपाध्याय और राजेंद्र तिवारी कमाल हुसैन से 20 हजार रूपये की रिश्वत राशि ले चुके थे। लोकायुक्त पुलिस ने आरक्षक अंकित उपाध्याय और राजेंद्र तिवारी के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है।