Indore News- दहेज के लालच में बहू को उतारा मौत के घाट, फांसी की मांग पर अड़े परिजन

मृतका के परिजनों का आरोप है कि मेघा से दस लाख की दहेज की मांग ससुराल वाले कर रहे थे और नहीं देने पर मानसिक और शारीरिक यातनाएं दी जाती थी ।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में एक नवविवाहिता को दहेज (Dowry) के लिए परेशान करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी। हत्या (Murder) के मामले में अब परिजन दोषियों को फांसी देने की मांग कर रहे है। मेघा गौड़ की शादी के बाद मौत हो गई थी जिसके बाद परिजनों ने हत्या का आरोप ससुराल पक्ष पर लगाया था और अब परिजन आरोपियों की फाँसी की मांग कर रहे है। मंगलवार (Tuesday) को मृतक नवविवाहिता की मौत के मामले में दो आरोपियो के नही पकड़े जाने से नाराज परिजनों ने रीगल तिराहे पर चक्का जाम किया।

दरअसल, दो साल पहले इंदौर के संगम नगर के रहने वाली मेघा गौड़ की शादी इंदौर के ही नादिया नगर के रहने वाले सूरज गौड़ से हुई थी। पेशे से इंजीनियर मेघा को दहेज के लिए विवाह के बाद से ही परेशान किया गया। इस दौरान ससुराल पक्ष द्वारा अक्सर उससे मारपीट भी की जाती रही है वहीं परिजनों का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने मेघा की हत्या की है। जिसके बाद 5 लोगों पर मामला दर्ज भी हो गया और मृतक मेघा के सास पति और ननद को गिरफ्तार किया गया है। वही दो आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। मृतका के परिजनों का आरोप है कि मेघा से दस लाख की दहेज की मांग ससुराल वाले कर रहे थे और नहीं देने पर मानसिक और शारीरिक यातनाएं दी जाती थी ।

परिजनों की मांग है कि मेघा के हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर फांसी की सजा दी जाए। मंगलवार को नाराज परिजनों ने रीगल तिराहे पर चक्का जाम भी किया। वही पुलिस के द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद लोगो का हंगामा समाप्त हुआ मेघा के पिता महेश गौड़ ने बताया कि अगर पुलिस विभाग द्वारा ल दोनों आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी नहीं करती है ओर उन्हें सख्त सजा नही दी तो यह प्रदर्शन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) के समक्ष भोपाल (Bhopal) में भी किया जाएगा। वही मेघा के भाई ने बताया पूरे मामले में मेघा के मामा ससुर बालमुकुंद गौड़ पर आरोप लगाते हुए कहा कि बालमुकुंद गौड़ जो कि आबकारी कार्यालय में कांस्टेबल है उनके कार्रवाई नहीं करने का दबाव भी बनाया जा रहा है ।