श्रमिकों को शहरी सीमा से पार लगाने के लिये जिला प्रशासन ने दी ये बड़ी राहत

इंदौर/आकाश धोलपुरे

लॉक डाउन के बीच अन्य प्रदेशों खास तौर से महाराष्ट्र की ओर से आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए जिला प्रशासन ने एक आदेश जारी किया है जिसके तहत आगामी 17 मई तक की अवधि के दौरान निजी स्कूल बसों द्वारा देवास सीमा के बाहर तक प्रवासी मजदूरों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन कर छोड़ा जा सकेगा।

इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा जारी आदेश के तहत इंदौर बायपास सीमा में आने वाले समस्त मजदूरों को इंदौर से लेकर देवास सीमा तक छोड़ने के लिए समस्त निजी स्कूल की बसों को दिए आवाजाही करने के आदेश है। इस दौरान सभी बसों को मजदूरों को छोड़ने के लिए परमिट के नियमों से भी मुक्त किया गया है साथ ही जिला पंचायतों को हाइवे से गुजरने वाले मजदूरों के लिए पानी और भोजन सुविधा मुहैया कराने के लिए भी आदेश दिए गए हैं। स्कूल बस के माध्यम से मजदूरों को शहरी सीमा के अंदर दाखिल होने से लेकर शहरी सीमा के बाहर तक ले जाने के लिए महज स्कूल स्टाफ के लिये आदेश जारी किए वही स्कूल के संचालको को केवल फोन से संपर्क रहने के निर्देश है जिससे साफ है कि स्कूली संचालकों को घर से निकलने की अनुमति नही रहेगी।

श्रमिकों को शहरी सीमा से पार लगाने के लिये जिला प्रशासन ने दी ये बड़ी राहत

श्रमिकों को शहरी सीमा से पार लगाने के लिये जिला प्रशासन ने दी ये बड़ी राहत श्रमिकों को शहरी सीमा से पार लगाने के लिये जिला प्रशासन ने दी ये बड़ी राहत