शिवराज और सिंधिया की सभा में खाली कुर्सी का वीडियो वायरल, कांग्रेस ने साधा निशाना

इंदौर, आकाश धोलपुरे| मध्य प्रदेश (MadhyaPradesh) के उपचुनावों (Byelection) में सबसे हॉट सीट मानी जा रही इंदौर के सांवेर (Sanwer) में आयोजित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh chauhan) और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की सभा में भीड़ नहीं जुटी| जब मुख्यमंत्री मंच से भाषण दे रहे थे तो आगे की कुर्सियां खाली रही| कांग्रेस (Congress) ने इसका वीडियो वायरल कर भाजपा (BJP) पर निशाना साधा है|

कांग्रेस नेता नरेंद्र नरेंद्र सलूजा ने सांवेर की सभा का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा -‘आज इंदौर के साँवेर में शिवराज जी व सिंधिया जी की झूठ एक्सप्रेस के लिये 600 बसो का अधिग्रहण किया गया पूरे संसाधन झोके गये, फेक्टरी से मज़दूर तक भर कर लाये गये लेकिन जब शिवराज जी का भाषण हुआ , सामने कुर्सियाँ पूरी ख़ाली थी। आये हुए और लाये हुए में यही अंतर है’।

केके मिश्रा बोले…रवानगी तय
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने भी वीडियो ट्वीट कर भाजपा पर निशाना साधा है| उन्होंने लिखा- ‘शिवराज जी, आज सांवेर की सभा में प्रशासन 600 बसों में भरकर कुर्सियां लाया था या जनता? आपके धैर्य को सेल्यूट, श्रोता नहीं फिर भी आपका शौक जारी..कम से कम आप अब तो अपनी लोकप्रियता का अंदाज़ लगा लीजिए, रवानगी तय है…टेम्परेरी मुख्यमंत्री जी’

कमलनाथ पर बरसे शिवराज
सांवेर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2,400 करोड़ रुपये की लागत के माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना का शिलान्यास एवं विभिन्न विकासकार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस और कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि कमलनाथ जी का कहना है कि शिवराज नालायक है! जो जनता का हक़ छीने वो लायक और जो जनता को सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाए, वो नालायक? धन्य हैं कमलनाथ जी| कमलनाथ जी ने फसल बीमा का प्रीमियम नहीं जमा किया और मैंने आते ही प्रीमियम की 2200 करोड़ राशि जमा की तो प्रदेश के 15 लाख किसानों के खाते में 2900 करोड़ रुपये पहुंचे। जब मैंने नर्मदा मैया का पानी क्षिप्रा मैया में छोड़ने की बात की, तो दिग्गी राजा ने कहा कि यह असंभव है। मैंने कहा कि मेरे शब्दकोश में असंभव शब्द नहीं है। अंतत: उस सपने को साकार कर मैंने लाखों हेक्टेयर भूमि को सिंचित कर किसानों के जीवन में एक नया प्रकाश लाने का काम किया।