यहाँ कोरोना संक्रमण की रफ्तार में आई कमी और वैक्सीनेशन में आई तेजी

इंदौर, आकाश धौलपुरे। इंदौर में जून (June) का महीना शुरुआत से ही राहत भरा रहा है। जून के पहले वीक में इंदौर में जहां कोरोना संक्रमण (Coroana Infection) की रफ्तार पर लगाम लगी है वहीं दूसरी ओर लोगों में वैक्सीनेशन (Vaccination) को लेकर संशय भी कम होता जा रहा है और इसी का परिणाम है इंदौर कोविड वैक्सीनेशन के आंकड़ों ने रफ्तार पकड़ रहा है।

दरअसल, कोरोना से मचे हाहाकार के बीच धीरे धीरे प्रदेश की आर्थिक राजधानी में जिंदगी एक बार पटरी पर लौटने लगी इस बात की तस्दीक वो सरकारी आंकड़े कर रहे हैं जिन पर अक्सर सवाल उठाए जाते रहे हैं। दरअसल, इंदौर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा पिछले 24 घण्टे के जो आंकड़े सामने रखे गए हैं उसके मुताबिक एक दिन में 179 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं वहीं  2 लोगों की मौत के बाद कोरोना से अब तक जान गंवाने वालों की संख्या 1360 तक जा पहुंची है। इधर, शहर में 288 लोगो ने कोरोना को मात दी है तो वर्तमान में अलग अलग अस्पतालों, होम आइसोलेशन और कोविड केयर सेंटर के माध्यम से 1206 मरीजों का इलाज जारी है। कोविड -19 के जिला नोडल अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने बताया कि इंदौर में हालात सुधरे हैं लेकिन लोगों को कोविड नियमों का पालन करना अभी भी जरूरी है।

ये भी पढ़े –शिवराज के नए OSD को कांग्रेस ने बताया मोदी विरोधी, नरोत्तम बोले- CM से करूँगा बात

जहाँ इंदौर में संक्रमण की रफ्तार कम हुई वहीँ दूसरी और वैक्सीनेशन के कार्य मे भी तेजी आई है। बता दें कि एक बड़ी आबादी वैक्सीनेशन को लेकर भय और संशय में पड़ी थी लेकिन अब लोगों में जागरूकता आ रही है लिहाजा एक ही दिन के 73541 लोगों का वैक्सीनेशन भी हुआ है जिनमें  61 हजार से ज्यादा युवा शामिल हैं , जो 18 से 44 वर्ष के बीच के आयु वर्ग का प्रतिनिधित्व करता है। वही 9 हजार ऐसे लोग है जो 45 वर्ष की उम्र पार कर चुके है। फिलहाल, इंदौर में अनलॉक के प्रतिबंधो के बावजूद एक बार फिर से चहल पहल दिखना शुरू हो गई है जो एक अच्छे संकेत है हालांकि इस बीच लोगो को कोविड – 19 की तीसरी संभावित लहर की भी चिंता लिहाजा, बड़ी संख्या में लोग कोविड नियमों का पालन भी करते दिखाई दे रहे हैं।

ये भी पढ़े – विश्वास सारंग ने कमलनाथ को दी महत्वपूर्ण सलाह- करें विश्राम