Indore: सांसद का कड़ा रुख़, कहा- इन अस्पतालों पर हो सख्त कार्यवाही

इंदौर।

निजी अस्पतालों द्वारा अन्य बीमारी के मरीजों को भर्ती एवं इलाज ना करने की लगातार हो रही अस्पताल प्रशासन की लापरवाही के बीच इंदौर के सांसद शंकर लालवानी ने सख्त निर्देश दिए हैं। सांसद लालवानी ने वीडियो के माध्यम से कहा है कि मरीज इलाज ना करने वाले अस्पताल की शिकायत प्रशासन से करें। उन अस्पतालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

सोमवार को सांसद ने वीडियो जारी करते हुए क्षेत्रवासियों से कहा है कि किसी भी निजी अस्पताल द्वारा इलाज ना करने व भर्ती न करने के संबंध में आप शिकायत दर्ज करें। ऐसे अस्पतालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई। सांसद ने यह भी कहा की जनता को इलाज के नाम पर परेशान होना पड़े तो अस्पताल की ऐसी लापरवाही हम सहन नहीं करेंगे। इसी के साथ इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने भी बताया की अस्पताल संचालकों को चेतावनी दे दी गई है। कलेक्टर सिंह ने कहा कि प्रशासन को पता है कि किस अस्पताल में मरीजों का इलाज चल रहा है और कौन से अस्पताल इससे बचने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे संकट के दौर में जो अस्पताल मरीजों के इलाज में साथ नहीं देंगे उन्हें भविष्य में इसके लिए सचेत रहना चाहिए।

वहीं दूसरी तरफ रविवार को जिला प्रशासन ने क्षेत्रवासियों की मदद के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। जिस पर कॉल कर लोग अपनी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। यह नंबर 24 घंटे उपलब्ध है। नोडल अधिकारी संतोष ठाकुर ने बताया 0731 258 3838 नंबर पर कॉल कर मरीज अपने क्षेत्र के अस्पताल के बारे में जानकारी ले सकते हैं। बता दे कि इंदौर में अस्पतालों को तीन कैटेगरी में बांट दिया गया है।रेड, येलो और ग्रीन श्रेणी में बंटे ये अस्पताल निर्देश अनुसार काम करेंगे। जिसमें कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने वाले मरीज का इलाज येलो श्रेणी में होगा। रेड श्रेणी में कोरोनावायरस के पॉजिटिव मरीजों का इलाज किया जाएगा। वह ग्रीन श्रेणी में अन्य बीमारी और इमरजेंसी केस के उपचार किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here