इंदौर : धन के पुजारी और ज्ञान के पुजारी के बीच मुकाबला-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को इंदौर पहुंचे, यहाँ  इंदौर के महापौर पद के भाजपा प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव के नामांकन भरने से पहले राजवाड़ा पर आयोजित सभा को संबोधित किया। इस दौरान प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित शहर के बड़े नेता मंच पर उपस्थित थे। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पुष्यमित्र मतलब जनता का मित्र। भारतीय जनता पार्टी सबसे अलग पार्टी है, मोदी जी, अमित जी, नड्डा जी हमारे नेता हैं। पार्टी ने तय किया कि एक व्यक्ति के पास एक पद ही रहेगा। कांग्रेस में तो एक ही आदमी विधायक, सांसद और महापौर के उम्मीदवार है। कमलनाथ या तो तुम्हारे पास कार्यकर्ता ही नहीं है, या कार्यकर्ता हैं तो उनकी कोई इज्जत नहीं है। इंदौर में लड़ाई धन के पुजारी और ज्ञान के पुजारी के बीच में है।

यह भी पढ़ें…. मप्र नगरीय निकाय चुनाव : कांग्रेस ने बुरहानपुर से पार्षद प्रत्याशी घोषित किये

इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ जब मुख्यमंत्री थे वो, कहते थे “मेरे पास पैसा ही नहीं है, मामा खजाना खाली कर गया।” अरे कमलनाथ, हम औरंगजेब थोड़ी थे जो, खजाना खाली कर गए। वो धन की कमी के लिए ही रोते रहते थे उन्होंने, मध्यप्रदेश की सरकार और बल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया था। 15 महीने में इंदौर को तबाह कर दिया था। अगर दूसरा मेयर बन गया तो, हमारे इंदौर के सपने बिखर जायेंगे। इसलिए मैं कह रहा हूं सावधान रहो। इसलिए मेरा आपसे निवेदन है मामा कह रहा है “मामा के पास इंदौर के लिए पैसे की कोई कमी नहीं है।”

सीएम ने इंदौर की जनता से अपील की उन्होंने कहा- इंदौर के बहनों और भाइयों! कांग्रेसी आयेगा, दाना डालेगा, जाल बिछाएगा, पैसा बंटेगा, तीर्थ यात्रा करवाएगा। फसोगे तो नहीं, यह संदेश पूरे इंदौर को दे देना, फसना नहीं है पुष्यमित्र भार्गव हमारे जाने- पहचाने, जांचे- परखे, और खरे उम्मीदवार हैं।

यह भी पढ़ें…. जबलपुर : सरकारी अस्पताल में प्रसूता के पेट में 14 इंच लंबी कैंची छोड़ी, फोरम ने दिया 6 लाख देने का आदेश

मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदौर में लड़ाई धन के पुजारी और ज्ञान के पुजारी के बीच में है, पुष्यमित्र भार्गव की छवि स्वस्थ है। इंदौर के विकास की जो परंपरा रही है, उसे बरकरार रखा जाएगा। इंदौर मेरे सपनों का शहर है। आने वाले 10 सालों में इंदौर बैंगलोर और हैदराबाद को पीछे छोड़ देगा। इंदौर बनाने के हमारे अपने सपने हैं। इंदौर का विकास, ग्रीन सिटी इंदौर, क्लीन सिटी इंदौर, आईटी सिटी इंदौर, मेट्रो सिटी इंदौर, स्मार्ट सिटी इंदौर इन्वेस्टर्स सिटी इंदौर के लिए हमारा रोडमैप तैयार है। 21 हजार करोड़ रुपये के काम हम मिशन नगरोदय के तहत कर रहे हैं, 1700 करोड़ रुपये के कार्य इंदौर में किए जा रहे हैं। कमलनाथ जी ने तो वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया था। अगर कांग्रेस आ गई, तो इंदौर बर्बाद हो जाएगा।हम इंदौर के विकास और जनता के कल्याण में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे! विकास के लिए और इंदौर की भलाई के लिए इंदौर नगर निगम में भाजपा के महापौर का होना जरूरी है। कांग्रेस तो जनता को साड़ियाँ और कपड़े बाँटने का काम कर रही है। कांग्रेसी आएगा, दाना डालेगा, साड़ी लाएगा, तीर्थ यात्रा करवाने का नाटक करेगा, लेकिन हमें उनके जाल में नहीं फँसना है। गुंडे, बदमाश, माफिया, गड़बड़ करने वालों और गरीबों का हक छीनने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कोई गड़बड़ करेगा, तो बुलडोजर चलेगा। अकेले पुष्यमित्र ही नहीं, 85 के 85 पार्षद भी भाजपा के ही होना चाहिए।