अश्लीलता की हदें पार करने वाला मार्शल आर्ट ट्रेनर गिरफ्तार, 14 साल की बच्ची ने की थी शिकायत।

martial-arts-trainer-arrested-

इंदौर| मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग के नाम पर वहशीयना हरकत को अंजाम देने वाले एक ट्रेनर को महिला पुलिस की अपराध शाखा ने बेहद चतुराई से गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि पुलिस को सोमवार शाम को शिकायत मिली थी जिसके बाद ट्रेनर के घर और स्कूल में छापेमार कार्रवाई की गई लेकिन वो मौके से भाग खडा हुआ था। आखिरकार ट्रेनर पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है।

 दरअसल, पूरा मामला इंदौर में मार्शल आर्ट की ट्रैनिंग कैंप का है जिसमें एक मासूम मार्शल आर्ट सीखने के लिए जुलाई 2018 में ट्रेनिंग कैंप ज्वाइन करती है लेकिन ट्रेनिंग कैंप को एक दरिंदा संचालित कर रहा था जिसकी निगाह पहली ही नजर में मासूम पर पड़ गई थी | इसके बाद मध्यप्रदेश के इंदौर से बाहर राष्ट्रीय मार्षल आर्ट कैंप के बहाने दरिंदे ट्रेनर ने एक टूर प्लान किया और ट्रेनर केे वाॅश रुम में मासूम बच्ची के साथ अश्लील हरकत को अंजाम दिया। हालांकि एक मासूम के मन में भय भी भर दिया था जिसके चलते उसकी आवाज दब सी गई थी। बताया जा रहा है कि मार्शल आर्ट ट्रेनर का नाम अमय लश्करी निवासी रेशमवाली गली इंदौर है। वही शिकायकर्ता 14 वर्षीय मासूम गीता भवन क्षेत्र में रहने वाली है। 

सोमवार शाम को शिकायत के बाद महिला अपराध शाखा की टीम सक्रिय हुई और दरिंदे अमय लश्करी की खोजबीन के चलते घर व स्कूल में छापेमारी की गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ट्रेनर ना सिर्फ 14 वर्षीय मासूम पर अश्लील नजर रखता था बल्कि उसकी बुरी नजर अन्य लड़कियो पर भी रहती थी वही वो होम ट्यूशन भी देता था और वहां भी अपने नापाक इरादो को अंजाम देता था। ताजा घटना में मासूम की शिकायत पर पुलिस ने वहषीपन की हदे पार करने वाले ट्रेनर अमय लश्करी को गिरफ्तार कर लिया है। दरिंदे अमय ने दिसंबर 2018 में नेशनल ट्रेनिंग कैेंप का बोलकर करिब 40 बच्चियों को गोवा टूर कराया जहां उसकी गर्लफ्रेंड भी उसके साथ थी। वही पर बाघा बीच पर दोनो ने बच्चियों के साथ शराब पार्टी की और बच्चियों के वीडियो व फोटो खींच लिए थे और इसके बाद निःशब्द होकर ब्लेकमेलिंग का खेल शुरु हुआ जिसमें बच्चियों के शराब पीती हुई तस्वीरो को दिखाकर ब्लेकमेल किया जाने लगा। इसके बाद जनवरी माह में देहरादून का टूर निकाला गया जहां पीड़िता के साथ ट्रेनर ने अश्लील हरकते करने की कोशिश और वह ट्रैन के बाथरुम में घुस गया और बच्ची के विरोध करने पर उसने कहा कि वो उसे अपनी गर्लफ्रेंड बनाना चाहता है। 14 वर्षीय मासूम के परिवार ने पुलिस को दो विडियो सौंपे है जिसकी जानकारी भी सामने आई है। महिला अपराध शाखा की डीएसपी पल्लवी शुक्ला ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर उस पर पाक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है साथ ही अन्य बिंदुओ पर भी पुलिस की जांच जारी है। 

इधर, पुलिस की गिरफ्त में आने के बावजूद भी शातिर दरिंदे के चेहरे पर कोई शिकन नही थी जबकि पीडिता के परिजन और अन्य लोग पलासिया क्षेत्र में स्थित में महिला पुलिस थाने पर जमा थे। फिलहाल, आवारा और अराजक लोगो से लडने के साथ ही देश का नाम रोशन करने के लिए ऐसे ट्रेनिंग कैंप को कई परिवारो ने चुन तो लिया लेकिन हकीकत में रक्षक ही भक्षक निकला जो अब सलाखों के पीछे है।