इंदौर| आकाश धोलपुरे| इंदौर में कोरोना को लेकर प्रशासन सतर्क है लेकिन ये बात हैरान करने वाली है कि यहाँ पॉजिटिव मरीजो की संख्या और मरने वालों की तादाद बढ़ती ही जा रही है जो एक बड़ी चिंता ना सिर्फ प्रशासन के लिए चुनौती है बल्कि प्रदेश सरकार के लिए भी।
दरअसल, इंदौर में रविवार को 2 और कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत हो गई है जिसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 9 हो गई है। वही पॉजिटिव मरीजो का आधिकारिक आंकड़ा 122 है। बताया जा रहा है कोरोना पॉजिटिव पुरुष इंदौर के उदापूरा क्षेत्र में रहता था और आज उसकी मौत हो गई। वही इंदौर मौत का एक और मामला शहर के स्नेहलतागंज का जहां रहने वाली 53 वर्षीय महिला की आज दोपहर 12.15 बजे एमआरटीबी अस्पताल में मौत हो गई।

मौत के बढ़ते मामलों को देखकर ना सिर्फ मध्यप्रदेश के सीएम बल्कि स्वयं प्रधानमंत्री और देश के स्वास्थ्य मंत्रालय का ध्यान इंदौर की ओर है। बता दे कि इंदौर देश के उन शहरों की फेहरिस्त में कोरोना मामलो को लेकर शीर्ष 3 शहरों में है लिहाजा, इंदौर में जिला प्रशासन अब लॉक डाउन को लेकर बेहद सख्त हो गया है और आज हो इंदौर कलेक्टर ने लोगो को हिदायत दी है कि यदि वे घर से बेवजह निकले तो उन पर कानूनी कार्रवाई कर की जाएगी और पुलिस भी अब पहले के मुकाबले कड़ाई से लॉक डाउन और कर्फ्यू का पालन कराने के लिए कमर कस चुकी है।