भले ही इंदौर में ओमिक्रान की दस्तक, संक्रमितों में कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज ने निभाया अहम रोल

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश में ओमिक्रान की आमद ने सभी को चिंता में डाल दिया है लेकिन, इसके बावजूद राहत भरी खबर हम सभी के लिए है कि विदेश से इंदौर आये जिन 8 मरीजो में ओमिक्रान की पुष्टि हुई है उनमें सभी की हालत बिल्कुल स्थिर है और 6 इलाज के बाद ठीक होकर अपने घर चले गए है ओमिक्रान होने के बावजूद इनके जल्द ठीक होने का कारण इन्हें कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगे होना बताया जा रहा है, यानी साफ है कि कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज ओमिक्रान से आपका बचाव कर सकते है।

यह भी पढ़े.. एमपी यूपी बार्डर पर चैकिंग के दौरान मिहोना पुलिस ने पकड़ा ₹115000 लिए अवैध लोडेड कट्टा धारी बोलेरो चालक

दरअसल  इंदौर में कोविड वायरस के ओमिक्रान वैरिएंट के पहले दो और फिर 6 नए मरीजों की आंशका जताई जा रही थी। इन सैम्पलों की जांच शहर के अरबिंदो मेडिकल कालेज की जीनोम सिक्वेंसिंग लैब में हुई थी। जहां पर जांच के दौरान इन  सैम्पल में ओमिक्रान की पुष्टि की गई थी, हालांकि यह लैब प्राइवेट थी जिसके वजह से एक बार क्रॉस चेक के लिए इन सैम्प्ल्स को पहले पूना और फिर दिल्ली की लैब में भेजा गया था इन लैब में भी ओमिक्रान की पुष्टि के बाद खुद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने रविवार को प्रदेश में ओमिक्रान की आमद की खबर मीडिया को दी।

 

राहत की खबर फिलहाल यह है कि 8 के ओमिक्रान पेशेंट थे। उनमें से छह लोग ठीक हो चुके हैं। दो लोग एडमिट हैं। उनमें सर्दी खांसी भी नहीं है। पूरी तरह से स्वस्थ हैं। सभी 26 की कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। हालांकि विशेषज्ञ और महामारी से जुड़े जानकार पहले ही बोल चुके थे कि मप्र में ओमिक्रान आ चुका है, लेकिन सरकार सबूत न होने के अभाव में नहीं मान रही थी और दावा कर रही थी कि प्रदेश में ओमिक्रान का वजूद नहीं है। जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट से खुलासा हो गया है कि ओमिक्रान पहले से ही प्रदेश में एंट्री ले चुका था, लेकिन इसने अपना कितना असर दिखाया है यह आने वाले समय में पता चलेगा। लेकिन वही चिकित्सक लोगों से अपील कर रहे है कि ओमिक्रान की चपेट में इंदौर के जो लोग आए उन सभी को कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगे है जिसकी वजह से उनमें हल्के लक्षण नजर आए और 6 मरीज ठीक होकर अपने घरों को लौट गए, फिलहाल कोरोना वायरस के बदलते रूप ओमिक्रान से बचाव के लिए सबसे जरूरी कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगवाना है। अरविंदो मेडिकल कालेज के डाक्टर महक भंडारी ने लोगों से अपील की है कि जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगवाए।