..तो इसलिए लोगों ने बस के ऊपर खड़ा कर ड्राइवरों से लगवाई उठक-बैठक

इंदौर| सड़कों पर अंधगति से दौड़ते वाहन आये दिन दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं, इसके बावजूद रफ़्तार कम नहीं हो रही है| ऐसे ही बस चालकों को लोगों ने सबक सिखाया और ऐसी सजा दी कि अब उन्हें लापरवाही और तेज रफ़्तार से वाहन चलाने पर सजा की याद आ जाएगी| बढ़ते सड़क हादसों को रोकने के लिए रहवासियों ने ऐसे चालकों को रोका और बस के ऊपर खड़ाकर उठक-बैठक लगवाई। आगे से उन्हें बस धीरे चलाने की समझाइश भी दी।

मामला राऊ का है, जहां इंदौर से महू-पीथमपुर के बीच तेज गति से चलने वाली बसों से परेशान राऊ के लोगों ने सोमवार को पांच बसों के ड्राइवर को बस के ऊपर खड़ा करके उठक-बैठक लगवाई। हिदायत दी कि अब से बसें धीरे चलाना। दरअसल, नगर परिषद के सामने का हिस्सा संकरा है और यहां भीड़ भी बहुत होती है। चार साल पहले तेज रफ्तार बस ने बच्चे को कुचल दिया था। राऊ नगर परिषद अध्यक्ष शिव डिंगू ने कहा- बसें तेज चलती मिलीं तो आगे भी यही तरीका अपनाया जाएगा।

लोगों ने बस को रुकवाकर दी सजा।

महू-पीथमपुर के बीच तेजगति से बस दौड़ा रहे थे चालक।