संदीप तेल हत्याकांड का मास्टरमाइंड रोहित सेठी देहरादून में गिरफ्तार, इंदौर लाएगी पुलिस

Sandeep-tel-murder-case-masterminded-Rohit-Sethi-arrested-in-Dehradun

इंदौर| इंदौर में 17 जनवरी को डिब्बा कारोबारी संदीप तेल हत्याकांड के मुख्य सरगना माने जा रहे रोहित शेट्टी को देहरादून पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है।  देहरादून पुलिस को सूचना मिली थी कि कोई संदिग्ध व्यक्ति अवैध चरस के साथ बस स्टैंड के पास घूम रहा जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए रोहित शेट्टी को 112 ग्राम चरस सहित पकड़ लिया। जब्त की गई चरस 15 हजार रुपए कीमत की बताई जा रही है। देहरादून पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया। वही पुलिस की पूछताछ में रोहित शेट्टी ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए। 

रोहित ने देहरादून पुलिस की पूछताछ में बताया कि उसके खिलाफ थाना विजयनगर इंदौर मध्य प्रदेश में हत्या का मुकदमा चल रहा है, जिसमे गिरफ्तारी से बचने के लिए करीब एक माह से इधर उधर घूम रहा है। रोहित शेट्टी ने पुलिस को ये भी बताया कि वह मूल रूप से इंदौर मध्य प्रदेश का निवासी हैं उसका केबल का व्यवसाय है और इंदौर में करीब 70 प्रतिशत कस्टमर उसी के है। इसी बात को लेकर कई लोग उसके खिलाफ थे। उसने पुलिस को बताया कि करीब एक महीना पहले एक केबल ऑपरेटर का शूटरों द्वारा मर्डर कर दिया गया था। जिसमे पुलिस द्वारा शूटर्स को पकड़ा गया था, उस मामले में मुझे भी हत्या ने शामिल माना जा रहा  था। इसके बाद से ही वह लगातार अपना घर छोड़कर पुलिस से छिपता हुआ घूम रहा है। 

रोहित ने बताया कि इससे पहले हरिद्वार में एक आश्रम में रुका हुआ था करीब 15 दिन पहले सीढ़ी से उतरते समय पैर फिसलने से नीचे गिरने पर दाहिना हाथ की हड्डी फ्रैक्चर हो गयी थी। पहले से चरस पीने का शौकीन था, पहले कभी कभी  पीता था, किन्तु जब से केस लगा तो रोज़ चरस पीने लगा।बरामद चरस आश्रम के एक बाबा से 15000 रुपये में खुद पीने के लिए खरीदी थी, एक महीने से बहुत डिप्रेशन में चल रहा था। बरामद चरस अपने पीने के लिए ही रखी थी। रविवार को रोहित स्वयं का चेकअप कराने मैक्स हॉस्पिटल देहरादून आया था, वहा से वापस हरिद्वार जाने के लिए बस के इंतज़ार में बैठा था कि पुलिस द्वारा पकड़ा लिया गया। बता दे कि संदीप तेल हत्याकांड सहित रोहित पर दो अन्य प्रकरण विजय नगर इंदौर पंजीबद्ध है और इंदौर पुलिस ने उस पर 30 हजार का इनाम भी रखा था। आज रोहित को देहरादून कोर्ट में पेश किया जाएगा वही इंदौर पुलिस भी देहरादून पहुंच रही ताकि उसे इंदौर लाकर संदीप तेल हत्याकांड की बारीकी से पूछताछ की जा सके। उम्मीद है कि जल्द ही सन्दीप तेल हत्याकांड से जुड़ी वजह सामने आ सकती है क्योंकि बताया जा रहा है 19 करोड़ के लेनदेन के विवाद के बाद संदीप तेल उर्फ संदीप अग्रवाल की हत्या की साजिश रची गई थी जिसे शार्प शूटर्स ने विजय नगर थाने से कुछ ही दूरी पर गोलियां चलाकर हत्या कर दी थी।