Two-factions-of-Congress-clash-with-each-other-in-a-debt-waiver-program

इंदौर| मध्य प्रदेश में 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस में गुटबाजी है कि ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं| आये दिन ऐसी तसवीरें सामने आती रहती है| अब महू की डोंगरगांव स्थित कृषि उपज मंडी में आयोजित किसान सम्मान पत्र व फसल ऋण माफी प्रमाण-पत्र वितरण कार्यक्रम कांग्रेस के दो गट आमने सामने आ गए| दोनों गुटों में जमकर मारपीट हो गई| इस कार्यक्रम में प्रदेश के गृह मंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री बाला बच्चन भी उपस्थित थे। वहीं कार्यक्रम भाजपा की आपत्ति को लेकर भी विवादों में आ गया| निमंत्रण पत्र पर स्थानीय विधायक का नाम होने को लेकर भाजपा ने एसडीएम से शिकायत की है| 

दरअसल, शुक्रवार को महू की डोंगरगांव स्थित कृषि उपज मंडी में किसान सम्मान पत्र व फसल ऋण माफी प्रमाण-पत्र का वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में गृहमंत्री व इंदौर जिले के प्रभारी मंत्री बाला बच्चन भी उपस्थित थे। इसी दौरान कांग्रेसियों के दो गुटों में मारपीट हो गई। जानकारी के अनुसार मारपीट पूर्व विधायक अंतर सिंह दरबार समर्थक और वीरेन्द्र अंजना समर्थकों के मध्य हुई। कार्यक्रम में हंगामा होता देख पुलिस ने स्थिति को संभाला और मारपीट करने वाले कार्यकर्ताओं को समारोह से बाहर खदेड़ा।

 इस आयोजन के माध्यम से महू तहसील की 25 सोसायटियों के 6183 किसानों के 42 करोड़ 41 लाख रुपए के ऋण माफी के साथ ही किसानों को प्रमाण पत्रों व सम्मान पत्रों का वितरण गृह मंत्री द्वारा किया गया। वहीं कार्यक्रम के निमंत्रण पत्र पर मंत्री बच्चन के नाम के अलावा स्थानीय विधायक उषा ठाकुर का नाम दर्ज नहीं होने से भाजपा कार्यकर्ताओं ने एसडीएम अंशुल गुप्ता को शिकायत दर्ज करवाई। 

कार्यक्रम

किसान