यमराज निकले बाजार बंद कराने, कलेक्टर ने कही ये बात

इंदौर, आकाश धोलपुरे। शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए नई गाइडलाइन जारी की गई है। इसके तहत अब रात 8 बजे से दुकानें बंद कराई जाएगी। हालांकि कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा है कि इंदौर में बाजार बंद करने का समय 8 बजे रखा गया है लेकिन 8 बजे से बाजार बंद के समय को कर्फ्यू की तरह न समझें, नाईट कर्फ्यू रात 10 बजे से लागू होगा। वहीं सोमवार को राजवाड़ा क्षेत्र में रात 8:30 बजे पुलिस की गाड़ी पर सवार होकर यमराज स्वयं बाजार बंद कराने निकले।

दरअसल दो लोग यमराज का वेश धरकर बाजार बंद कराने पहुंचे। ये लोग दुकानदारों से यह अपील कर रहे है कि कोरोना से बचने के लिए दुकाने जल्दी बंद करें। यमराज का रूप धरने का अर्थ ये था कि ये लोगों को संदेश देना चाहते थे कि अगर यमराज से बचना है तो गाइडलाइन का पालन करें। बता दें कि नई गाइडलाइन के अनुसार शहर में शादी, सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजनों में 250 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे और इन आयोजनों में 250 से कम लोग शामिल होंगे तो अलग से कोई परमिशन लेने की जरूरत नही होगी, लेकिन आयोजन के रूप रेखा और आमन्त्रित सदस्यों की संख्या की जानकारी संबंधित थाने में देकर पावती लेनी होगी।

थाने की पावती के आधार पर ही आयोजन स्थल के स्वामी, टेंट संचालक, केटरर सहित अन्य लोग आयोजन में सेवाएं दे पाएंगे। वही आयोजन कराने वालो के साथ ही लोगों की संख्या की जिम्मेदारी आयोजन स्थल के स्वामी, टेंट संचालक और केटरर की भी होगी याने खाना बनाने वाले के साथ ही टेंट वालों की नजर भी आप पर रहेगी। इसके साथ ही आयोजन में कोविड के सभी प्रोटोकॉल (covid protocol) का पालन करना अनिवार्य होगा नही तो कार्रवाई (action) भी हो सकती है।

इधर, सांस्कृतिक, सामाजिक और धार्मिक आयोजन जिसमे शादी भी शामिल है, उनमे सिर्फ बारात निकालने की ही अनुमति रहेगी वही रैली, जुलूस और यात्रा निकालने पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। इसके अलावा बारात में लाइट और बैंड वालो के अलावा 50 लोग ही शामिल हो सकेगें वो भी कोविड नियमों का पालन कर। वहीं शादी, ब्याह और बारात के आयोजन रात 10 बजे तक ही हो सकेंगे और 10 बजे तक आयोजन को बंद करने की जिम्मेदारी आयोजक, टेंट वाले और केटरर के साथ आयोजन स्थल के स्वामी की होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here