गैर-हिन्दू डिलीवरी बॉय से खाना न लेने का मामला, पुलिस करेगी अमित शुक्ला के खिलाफ कार्रवाई

case-of-not-taking-food-from-the-delivery-boy-of-zomato-police-will-take-action-against-Amit-Shukla

जबलपुर| जोमैटो से गैर हिन्दू लड़के से खाने की डिलेवरी लेने से मना करने वाले मामले में जबलपुर पुलिस हरकत में आ गई है| जिसके चलते पुलिस ने स्वतः संज्ञान लेते हुए धार्मिक भावनाएं भड़काने के मामले में अमित शुक्ल के खिलाफ कार्यवाही करने की तैयारी शुरू कर दी है|  जबलपुर के पुराने इतिहास को देखते हुए जबलपुर एसपी अमित सिंह ने जोमैटो से डिलेवरी लेने से इंकार करने के मामले में शू मोटो लिया है और ऑनलाइन खाने की डिलेवरी से इनकार और उसके बाद ट्वीट करने पर ग्राहक अमित शुक्ला पर प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत नोटिस देने का जिम्मा क्राइम ब्रांच को सौंपा है|

दरअसल बीती 29 जुलाई को ऑनलाइन खाना डिलेवरी करने वाली कंपनी जोमैटो से जबलपुर के ग्राहक अमित शुक्ल ने खाना आर्डर किया था| जब कंपनी की ओर से अमित को डिलेवरी बॉय के नाम से मैसेज मिला| जिस पर अमित ने डिलेवरी बॉय को बदलने की मांग कंपनी से की और कारण पूछे जाने पर सावन के महीने में गैर हिन्दू से खाना न लेने की बात कही| जिसके बाद कंपनी ने डिलेवरी बॉय को चेंज करने से मना कर दिया था| इसके बाद अमित ने ऑर्डर कैंसिल कर दिया और ट्वीटर पर अपनी बात पोस्ट कर दी| जिस पर  जोमैटो कंपनी ने अमित के ट्वीट का जबाव देते हुए कहा था कि खाने का कोई धर्म नही होता है| जिसके बाद से ही अमित शुक्ला देशभर में ट्रोल होने लगे और ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी करने वाली कंपनी जोमैटो के उस ट्वीट को देशभर में लोगों ने सराहा भी| 

मामले के तूल पकड़ने के बाद अब इस पूरे मामले में जबलपुर पुलिस ने संज्ञान लेते हुए अमित शुक्ल पर प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत कार्रवाई की है और आगे के लिए इस तरह के धार्मिक भावनाओं को भड़काने के सोशल मीडिया पर मैसेज न करने की चेतावनी दी है| जबलपुर एसपी अमित सिंह का कहना है कि इस तरह से ट्वीट करना गैरकानूनी है जिससे किसी की भावनाएं आहत हो इसलिए अमित शुक्ल पर कार्यवाही की जा रही है साथ ही उनको चेतावनी भी दी जा रही है।