बैंक से मृत पेंशनर्स के नाम की पेंशन निकालने वाला गिरोह पकड़ा गया, हो सकते है कई बड़े खुलासे

जबलपुर,संदीप कुमार। मृत पेंशनरों की पास बुक आदि दस्तावेज छलपूर्वक प्राप्त कर, बैंक से मृत पेंशनरों के नाम की पेंशन निकालने वाला गिरोह पुलिस ने पकड़ा है। थाना रांझी में योगेन्द्र शर्मा उम्र 38 वर्ष निवासी इन्द्रानगर रांझी ने रिपोर्ट दर्ज करायी कि वह साफ्टवेयर इंजीनियर है उसकी नानी स्व. गायत्री बाई शर्मा शासकीय स्कूल में टीचर थी जो वर्ष 2004 में सेवानिवृत्त हो गयी थी उनको उस वक्त 17 हजार मासिक पेंशन मिलती थी वर्ष 2018 में उसकी तथा उसकी नानी की तबियत खराब थी वह आशीष हास्पिटल में इलाज हेतु भर्ती था नानी भी आईसीयू में भर्ती थी उनको हार्ट की बीमारी थी, दोनों डिस्चार्ज होकर आ गये थे हमारे पास पैसों की कमी थी इसी बीच सुशील वाघमारे ने उससे सम्पर्क किया था और कहा कि वह पेंशन अकाउण्ट में ढाई लाख का लोन करवा देगा तब वह एवं उसकी नानी दोनों सुशील वाघमारे की बात में आ गये।

टायर जलाकर किया दलित महिला का अंतिम संस्कार, गुना की घटना

सुशील के साथ जीवन सिंह, राजकुमार भी थे जिन्होंने उससे एवं नानी गायत्री बाई की पेंशन पास बुक, आधारकार्ड, पेनकार्ड और फोटो ले लिये थे और तीनों ने विश्वास दिलाया था कि एक सप्ताह में नानी का ढाई लाख रूपये का लोन स्वीकृत करा देगें और 2 बार में 15-15 हजार करके डाउन पेमेण्ट और सर्विस चार्ज के नाम पर कुल 30 हजार रूपये सुशील वाघमारे ने उससे ले लिये थे इसी बीच उसकी नानी गायत्री शर्मा का दिनांक 4-10-2018 को निधन हो गया था तो उसने सुशील से नानी की पेंशन पासबुक ओैर लोन हेतु दिये गये दस्तावेज वापस मांगे तो सुशील ने कहा कि नानी खत्म हो गयी है अब दस्तावेज का क्या करोगे, यह कहकर उसे टालता रहा और दस्तावेज वापस नहीं किया अभी उसे बैंक से जानकारी मिली है कि सुशील वाघमारे और सुशील के साथी ने उसकी नानी के मरने के बाद नानी के फर्जी हस्ताक्षर करके उनका अकाउण्ट कटनी से जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज ब्रांच में ट्रांसफर करवा लिया और किसी अन्य को खड़ा करके नानी स्व. गायत्री शर्मा की 22 हजार रूपये मासिक पेंशन प्राप्त कर रहा है जबकि उसकी नानी का निधन 2018 में हो चुका है। सुशील वाघमारे, जीवन सिंह और राजकुमार उर्फ राजू का गिरोह मृत पेंशनरों की पेंशन पास बुक छल कपट से प्राप्त कर फर्जी अंगूठा दस्तावेज करके किसी को भी खड़ा करके बैंक से उनकी पेंशन निकाल कर लोगों के और शासन को छल रहे है।

प्रेमी ने प्रेमिका पर किया एसिड अटैक, शादी की रजामंदी के बाद आखिर क्यों उठाया यह कदम !

मामला सामने आने के बाद पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा ने घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी के आदेश दिए। गठित टीम द्वारा सरगमी से तलाश करते हुये आरोपी सुशील वाघमारे उम्र 35 वर्ष निवासी कांचीपुरम कालोनी मडई, जीवन सिंह ठाकुर उम्र 39 वर्ष निवासी इंद्रा नगर भूमिया मोहल्ला रांझी, राजकुमार नामदेव उम्र 58 वर्ष निवासी महाराजपुर अधारताल को अभिरक्षा में लेते हुये सघन पूछताछ की जा रही है, पकडे गये तीनों अरोपियों को प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार कर लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है पुलिस को उम्मीद है कि पूछताछ में कई खुलासे हो सकते है।