धान खरीद को लेकर महत्वपूर्ण बैठक, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्यप्रदेश में आगामी धान खरीदी को लेकर राज्य सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है। धान खरीदी को लेकर खाद्य विभाग के प्रमुख सचिव स्वयं जिले के अधिकारियों से चर्चा कर रहे है। इसी क्रम के बुधवार को जबलपुर में खाद्य विभाग के प्रमुख सचिव फैज अहमद किदवई ने संभाग के कलेक्टर-अपर कलेक्टर सहित खाद्य विभाग के अधिकारियों की मैराथन बैठक ली। इस बैठक में प्रमुख सचिव ने आगामी धान खरीदी को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए।

ऑनलाइन लर्निंग लायसेंस प्रक्रिया, परिवहन विभाग की पहल से खुश हैं आवेदक

धान की होगी व्यापक रूप में खरीदी
जबलपुर में आज संभाग स्तरीय बैठक में प्रमुख सचिव ने सभी कलेक्टर, अपर कलेक्टर को निर्देश दिए कि आने वाले समय में किसानों की धान खरीदी को लेकर जिला प्रशासन अपनी पूरी तैयारी कर लें। कोशिश की जाए कि हर किसान की धान को सरकार खरीदे। इसके अलावा उन्होंने कलेक्टर को निर्देश दिए कि धान खरीदी के दौरान अगर बिचौलिये सक्रिय होते है तो उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाए। प्रमुख सचिव किदवई ने कहा कि मिलिंग में जो धान रखी हुई है उसकी भी समीक्षा की गई है।

राज्य सरकार को नुकसान से है बचाना
जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश के कई जिलों में अभी भी धान पड़ा हुआ है जिसकी मिलिंग होना बाकी है। उन्होंने कहा कि अभी कोशिश की जा रही है जितना भी धान मिलिंग के लिए पड़ा है उस धान को मिलर तक पहुँचाकर उसका चावल निकाल लिया जाए, जिससे कि धान खराब होने पर राज्य सरकार को जो नुकसान होता है उससे बचा जा सके।

पीडीएस के तहत राशन वितरण को लेकर भी हुई बैठक
खाद्य विभाग के प्रमुख सचिव फैज अहमद किदवई, एम डी तरुण पिथोरे सहित आठ जिलों के कलेक्टर और अपर कलेक्टरों के साथ हुई बैठक में इस बात की भी समीक्षा की गई कि क्या पीडीएस के तहत प्रदेश के सभी कार्डधारियों को पीडीएस के तहत राशन मिल रहा है। एमडी तरुण पिथोरे ने बताया कि सभी कलेक्टरों को निर्देश दिए गए कि एफसीआई का रखरखाव और उठान सही समय पर हो। इस बैठक में जबलपुर, सिवनी, मण्डला, डिंडोरी, कटनी, नरसिंहपुर सहित संभाग के सभी कलेक्टर मौजूद रहे।