जबलपुर ईओडब्ल्यू ने दर्ज किया स्कोडा कार शो-रूम संचालक के खिलाफ मामला, कम इन्वाइस से करते थे टैक्स चोरी

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (EOW) जबलपुर द्वारा शहर की सागर आटोटेक प्राइवेट लिमिटेड एजेंसी के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध किया है, शिकायत के बाद जांच के दौरान यह पाया गया कि सागर ऑटोटेक प्राइवेट लिमिटेड एजेंसी द्वारा वर्ष 2018 और 19 में बेचे गए कुल वाहनों में से 42 वाहनों के अलग अलग इनवॉइस बनाये गए जिसमे ग्राहकों से धोखाधड़ी करते हुए शासन को करीबन 19 लाख 14 हजार 182 रुपये का नुकसान पहुंचाया।

गौरतलब है कि दो साल पहले जबलपुर में लक्जरी कार निर्माता कंपनी स्कोडा डीलरशिप लेने वाले भाजपा नेता के सागर ऑटोटेक प्राइवेट लिमिटेड के शो-रूम में  आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) की टीम ने छापा मारा कर कई दस्तावेज जब्त किए थे। शिकायत मिली थी कि डीलर वाहनों के रजिस्ट्रेशन के लिए कम इन्वाइस तैयार कर टैक्स चोरी करते थे। टीम ने छापे में टैक्स चोरी के मामले में शो-रूम से कई दस्तावेज जब्त किए थे। डीलर ने साल 2018 तथा 2019 में बेचे गए सभी वाहनों के वास्तविक मूल्य तथा परिवहन विभाग को भेजे गये इन्वाइस के दस्तावेज जांच टीम ने जब्त किए थे।

 

यह भी पढ़े.. नए साल से पहले Scindia ने मध्य प्रदेश को दी बड़ी खुशखबरी, बोले- विश्व से जुड़ने की तरफ एक और कदम

जांच के दौरान प्रकरण में आरोपी सागर ऑटोटेक प्राइवेट लिमिटेड एजेंसी के संचालक प्रतीक जैन और मीनल जैन ने तत्कालीन वाइस प्रेसीडेंट अशोक ठाकुर के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचकर कूटरचित दस्तावेज तैयार कर अपराध करना साबित हुआ जिसके बाद न्यायालय में अभियोग पत्र प्रस्तुत किया गया है, वही प्रकरण में स्कोडा इंडिया लिमिटेड तथा स्कोडा इंडिया के भोपाल, इंदौर के डीलरो की भूमिका की भी जांच की जा रही है।