Jabalpur News : नीट-नर्सिंग घोटाले के विरोध में सड़क पर उतरे कांग्रेसी, पुलिस से हुई झड़प, वाटर कैनन से खदेड़ा

पुलिस ने कार्यकर्ताओं को गाड़ी में बैठकर रवाना किया उसके बावजूद काफी देर तक घंटाघर चौराहे पर इसी तरह सरकार के खिलाफ नारेबाजी चलती रही।

Amit Sengar
Published on -
jabalpur news

Jabalpur News : नर्सिंग कॉलेज घोटाला और नीट परीक्षा में पेपर लीक मामले को लेकर कांग्रेस ने प्रदेशभर में प्रदर्शन किया। इस दौरान जबलपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच में ही हल्की झड़प हो गई। बैरिकेटिंग चढ़ने की कोशिश कर रहे प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया।

पुलिस से हुई झड़प, वाटर कैनन से खदेड़ा

कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने जा रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को घंटाघर के पास ही बैरिकेटिंग कर रोक लिया गया, कांग्रेस कार्यकर्ता जैसे ही बैरिकेडिंग चढ़कर ऊपर जाने की कोशिश करने लगे तो उन्हें पुलिस ने धक्का देकर नीचे उतारने की कोशिश की। इसके बाद भी कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं माने तो कांग्रेस कार्यकर्ता और पुलिस के बीच में हल्की झड़प भी देखने को मिली। काफ़ी कोशिश के बाद भी जब कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं माने तो उन्हें रोकने के लिए वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया। पुलिस के वाटर कैनन के इस्तेमाल के बावजूद भी कांग्रेस कार्यकर्ता अपनी मांगों को लेकर डटे रहे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे इसके बाद पुलिस ने कुछ कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं को जबरदस्ती गाड़ी में बैठाने की कोशिश की तो कांग्रेस कार्यकर्ता और ज्यादा आग बबूला हो गए जिससे मौके पर ही अफरा तफरी का माहौल हो गया। बाद में किसी तरह पुलिस ने कार्यकर्ताओं को गाड़ी में बैठकर रवाना किया उसके बावजूद काफी देर तक घंटाघर चौराहे पर इसी तरह सरकार के खिलाफ नारेबाजी चलती रही।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति के नाम एडीएम को सौंपा ज्ञापन

आपको बता दे कांग्रेस का आंदोलन टाउन हॉल से शुरू होकर घंटाघर पहुंचा था। काफी देर हंगामा और प्रदर्शन के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एडीएम को अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा तब जाकर मामला शांत हुआ।

जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News