Jabalpur News : वर्षों पुराना बरगद का पेड़ गिरा, कई लोग दबे, 2 की हालत नाजुक

बारिश में कमजोर हुआ बरगद का पुराना पेड़ गिरने से 5 से 6 लोग दब गएँ जिनमें से दो की हालत नाजुक है।

जबलपुर, संदीप कुमार।  बारिश आते ही  में पुराने और कमजोर पेड़ों का गिरने का सिलसिला शुरू हो गया है, मध्यप्रदेश के जबलपुर (Jabalpur)में शनिवार सुबह डिंडोरी – जबलपुर मार्ग में अचानक ही एक पेड़ भरभरा कर गिर गया, इस पेड़ के गिरने से उसके नीचे करीब 5 से 6 लोग दब गए जिन्हें स्थानीय लोगों ने बाहर निकाल कर सतपुला अस्पताल में भर्ती करवाया।  घटना में 2 लोगों को गंभीर चोटें लगी हैं, जिनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

अचानक गिरा पेड़-मच गया हड़कंप

जानकारी के मुताबिक आज सुबह करीब 7:30 बजे जब लोग अपने अपने कामों में जा रहे थे तभी अचानक ही रांझी- सतपुला के पास सड़क किनारे लगा पुराना बरगद का पेड़ (Banyan Tree) अचानक ही भरभरा कर गिर गया, पेड़ के गिरने से उसकी चपेट में आकर 5 से 6 लोग दब गए।  दबे लोगों की चीख पुकार सुनकर लोगों ने उन्हें बाहर निकाला और फिर गन कैरिज फैक्ट्री के सतपुला अस्पताल में भर्ती करवाया, पेड़ के नीचे दबने से दो लोगों की हालत नाजुक है जिनका सतपुला अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है।

ये भी पढ़ें – Transfer: तबादला सूची जारी करने पर सीएम शिवराज का बड़ा बयान, प्रभारी मंत्रियों को मिले ये निर्देश

देर से पहुंची एंबुलेंस, परिजन खुद ही ले गए घायलों को अस्पताल

जबलपुर डिंडोरी मार्ग पर पेड़ गिरने के बाद वहां पर हड़कंप जैसी स्थिति बन गई, कुछ लोगों ने पेड़ के नीचे दबे लोगों को बाहर निकाला तो कुछ ने परिजनों को फोन कर मौके पर बुलाया, इधर लगातार एंबुलेंस को भी इस हादसे की सूचना दी जा रही थी पर समय पर ना ही प्रशासन पहुंचा और ना ही एंबुलेंस लिहाजा परिजन खुद ही घायलों को अस्पताल ले गए।

ये भी पढ़ें – Dumna Airport: जबलपुर के लिए एक और हवाई सौगात, 10 साल बाद फिर से शुरू होगी एयरबस, ये होगी खासियत

बारिश में अक्सर होते हैं हादसे

सतपुला से लेकर रांझी – खमरिया तक सड़क किनारे सैकड़ों पुराने पेड़ लगे हुए हैं, अक्सर यह पेड़ बारिश के समय ही सड़क पर गिरते हैं, बावजूद इसके फैक्ट्री प्रबंधन और नगर निगम ने कभी भी पुराने पेड़ों को हटाने की कोशिश नहीं की, यही कारण है कि बारिश में अक्सर इस तरह के हादसे इस सड़क मार्ग पर होते हैं।

ये भी पढ़ें – 11 बार के विधायक रहे वरिष्ठ नेता का लंबी बीमारी के बाद निधन, CM ने जताया शोक

घंटों बाद मौके पर पहुंचा फैक्ट्री प्रबंधन और नगर निगम का अमला

हादसे में घायल हुए लोगों को परिजनों ने ही इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया। इधर कई घंटे बाद मौके पर गन कैरिज फैक्ट्री के कर्मचारी और नगर निगम का अमला पहुंचा और अब सड़क से पेड़ को हटाने की कवायद की जा रही है जिस तरह का यह भारी-भरकम पेड़ दिन में गिरा और कोई अनहोनी नही हुई तो कहा जा सकता है कि बड़ा हादसा टल गया है।

पुलिस ने किया मार्ग को डायवर्ट

उधर सतपुला रोड में विशाल पेड़ गिर जाने के चलते यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुआ है, मार्ग को पुलिस ने डायवर्ट करते हुए अधारताल-शोभापुर से यातायात बहाल किया जा रहा है, उम्मीद जताई जा रही है कि शाम तक मार्ग से पेड़ को हटा दिया जाएगा।