रेलवे बोर्ड के चेयरमैन व बोर्ड मेंबर पाँच दिवसीय मध्य प्रदेश के दौरे पर

इस दौरान वह भोपाल जबलपुर कटनी सागर दमोह और सतना स्टेशन का निरीक्षण करेंगे

जबलपुर,संदीप कुमार। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन पाँच दिवसीय दौरे पर मध्य प्रदेश आ रहे हैं इस दौरान उनके साथ टीम के साथ 7 सदस्य भी रहेंगे, बोर्ड के चेयरमैन सबसे पहले कमलापति स्टेशन का निरीक्षण 12 अप्रैल को करेंगे और उसके बाद फिर 13 अप्रैल को जबलपुर (jabalpur) में आकर पश्चिम मध्य रेलवे के जनरल मैनेजर और डी.आर.एम से मुलाकात कर कैसे यात्रियों को रेल की अधिक से अधिक सुविधा दी जाए इस पर चर्चा करेंगे।

यह भी पढ़े…गर्मियों में एलोवेरा का उपयोग ना सिर्फ आपकी स्किन बल्कि शरीर को भी रखेगा स्वस्थ- देखे कैसे

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन पी.के कृष्णा अपने सदस्यों के साथ 12 अप्रैल को 11:00 बजे कमलापति रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करेंगे। उसके बाद दोपहर 12:00 बजे भोपाल स्टेशन का जायजा लेंगे। वही यात्री सुविधाओं से जुड़े विषय और सुविधाओं का भी निरीक्षण रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी और डीआरएम के साथ करेंगे इस दौरान चेयरमैन पी के कृष्णा के साथ उनकी टीम के सातों सदस्य भी रहेंगे।

यह भी पढ़े…तरबूज के बीज फायदे जान आप हो जाएंगे हैरान, हड्डियों को भी बनाता है मजबूत

आपको बता दें कि रेलवे बोर्ड के चेयरमैन पीके कृष्णा पहली बार मध्य प्रदेश के दौरे पर आएंगे इस दौरान वह भोपाल जबलपुर कटनी सागर दमोह और सतना स्टेशन का निरीक्षण करेंगे, रेलवे बोर्ड के मेंबर डॉक्टर अभिलाष पांडे ने आज जबलपुर में मीडिया से बात करते हुए जानकारी दी कि बोर्ड के चेयरमैन पीके कृष्णा दास का यह मध्यप्रदेश पहले दौरा है और इस यह दौरा इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि कोरोना काल के बाद रेलवे की बहुत सी ऐसी सुविधाएं हैं, जो कि रुक गई थी उसे पूरा करने में बोर्ड के चेयरमैन का अहम योगदान रहा है।

यह भी पढ़े…IPL 2022 : सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का किया फैसला

रेलवे बोर्ड के मेंबर डॉक्टर अभिलाष पांडे के मुताबिक चेयरमैन पीके कृष्णा दास अपने दौरे के दौरान न सिर्फ रेलवे स्टेशनों का निरीक्षण करेंगे बल्कि अधिकारियों से चर्चा कर यह भी सुनिश्चित करेंगे कि आखिर कैसे अधिक से अधिक सुविधाएं यात्रियों को दिया जाए इस दौरान रेलवे बोर्ड के मेंबर डॉक्टर अभिलाष पांडे चेयरमैन से आग्रह करेंगे कि वह रेल सुविधा में जबलपुर को और विकसित करें इसके अलावा अन्य रेल सुविधाएं जैसे कि पत्रकारों की रियायत कुछ और ट्रेनें जिन्हें की जबलपुर से चलाए जाने की मांग है वह भी रेलवे बोर्ड के समक्ष रखेंगे।