जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में शादी करवाने के नाम पर ठगों की गैंग काम कर रही है। पन्ना (Panna) के रहने वाले शादी के इच्छुक एक शख्स के साथ जबलपुर (Jabalpur) में ठगी की वारदात को अंजाम दिया गया। जो शादी के नाम पर अपनी पूरी धन-दौलत गवां चुका है। जानकारी के अनुसार शादी के इक्छुक जयप्रकाश तिवारी को उसके पड़ौसी ने किसी रवि दुबे का नंबर दिया था। रवि दुबे ने जयप्रकाश को जबलपुर की रजनी तिवारी नाम की महिला का नंबर थमा दिया। रजनी तिवारी ने जयप्रकाश से कहा कि वो उसकी शादी करवा देगी लेकिन खर्च उसे ही करना होगा क्योंकि लड़की के मां-बाप नहीं हैं।

यह भी पढ़ें…Chhindwara में आशा-ऊषा कार्यकर्ताओं का भीख मांगो आंदोलन, गुलाबी गैंग ने भी किया सहयोग

सुंदर फ़ोटो दिखाकर फसाते थे युवकों को
आरोपी सुंदर लड़की की फोटो देखकर जयप्रकाश दूल्हा बनने राजी हो गया। शादी के अरमान संजोए जयप्रकाश 8 जून को जबलपुर पहुंचा। यहां गोलबाज़ार के पास रजनी, अपने साथ अंजली तिवारी नाम की एक सुंदर सी लड़की के साथ मिली चट-मंगनी पट ब्याह से बढ़कर कोर्ट मैरिज तय हुई। दूल्हे को जबलपुर जिला अदालत के सामने ले जाया गया। जहां काला कोट पहने एक कथित वकील मिला कोर्ट मैरिज करवाने के लिए जयप्रकाश से 8 हजार रुपए लिए गए। रजनी ने कहा कि दुल्हन के लिए जेवर लेने जरुरी हैं, जयप्रकाश ने अपने पास रखे 1 लाख 20 हजार रुपए भी रजनी को दे दिए। रजनी जेवर लेने रवाना हुई ही थी कि तीन लोग खुदको पुलिसवाले बताकर आ धमकी जबर्दस्ती शादी होने की बात की और दूल्हे से मारपीट कर उसके पास बचे 9 हजार रुपए भी झपट लिए दूल्हा बने जयप्रकाश को जब तक कुछ समझ पाता तब तक वो अकेला था पास रखे पैसे भी खत्म हो गए और दुल्हन बनकर आई अंजली भी गायब हो गई।

लार्डगंज थाना पुलिस में हुई शिकायत
जयप्रकाश ने लार्डगंज पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज करवाई जबलपुर की लार्डगंज पुलिस ने जब जांच शुरु की तो मुखबिर का साथ मिला पता चला कि वारदात में आशीष तिवारी नाम का युवक शामिल है। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसे विपिन नाम के उसके दोस्त ने नकली पुलिसवाला बनकर एक पर धौंस जमाने के बदले रुपए देने का लालच दिया था। पुलिस ने जब पूछताछ शुुरु की तो कलई खुलती चली गई। पुलिस ने शादी करवाने वाली रजनी तिवारी सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि दुल्हन अंजली और उसका भाई विकास तिवारी फरार है। पूछताछ में खुलासा हुआ कि अंजली पहले ही शादीशुदा है जिसका भाई बताया गया विकास उसका पति है और दोनों का असली नाम सुमन जैन और विवेक जैन है वारदात के दोनों बंटी-बबली बने पति-पत्नि को पुलिस तलाश रही है।

यह भी पढ़ें…VIDEO: गोविंद सिंह राजपूत ने बताया- क्या है उनके जीवन का लक्ष्य, अधिकारियों को दी हिदायत