कलेक्टर के निर्देश पर गैस एसेंसी पर राजस्व टीम ने मारा छापा

जबलपुर। जबलपुर शहर में लंबे समय से घरेलू गैस का वाहनों में उपयोग हो रहा था। शहर के ज्यादातर इलाको में घरेलू गैस सिलेंडर का ऑटो में उपयोग किया जा रहा है। खास बात ये है कि स्थानीय पुलिस और खाद्य विभाग को भी इसकी जानकारी है। यही वजह है  कि अब घरेलू गैस की कालाबाजारी रोकने कलेक्टर भरत यादव ने इसकी समीक्षा की ओर पाया कि शहर में बड़ी मात्रा में घरेलू गैस सिलेंडर का दुरुपयोग हो रहा है। 

कलेक्टर के निर्देश पर अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित के नेतृत्व में खाद्य विभाग और राजस्व की टीम ने बंदरिया चौराहे पर छापा मारते हुए ओजस इंपिरियल परिसर में स्थित गैस एजेंसी से बड़ी संख्या में अवैध रूप से रखे गए रसोई गैस सिलेंडर जप्त किए। खास बात यह है कि जिस वाहन में सिलेंडर रखे थे वह चलने लायक नहीं थी। जानकारी के मुताबिक खाद्य विभाग ने राजस्व विभाग के साथ मिलकर मौके से करीब 502 घरेलू गैस सिलेंडर और 75 खाली कमर्शियल गैस सिलेंडर जप्त किए। बताया जा रहा है कि इन रसोई गैस सिलेंडरों को ऐसे वाहनों में रखा गया था जो कि सड़कों पर चलने लायक नहीं थे। करीब 2 घंटे की चली कार्यवाही में जिला प्रशासन ने आज घरेलू गैस सिलेंडर की कालाबाजारी में अंकुश लगाया है।कार्यवाही के दौरान अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित के साथ तहसीलदार प्रदीप मिश्रा एवं सहायक आपूर्ति अधिकारी सुधीर दुबे भी मौजूद रहे। हालांकि इस पूरी कार्यवाही में किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई। बहरहाल जिला प्रशासन की आज की गई कार्यवाही के बाद से घरेलू गैस सिलेंडर की कालाबाजारी करने वालों के बीच हड़कंप मच गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here