Rakesh-Singh's-adopted-village-is-not-developed-in-five-year-

जबलपुर| प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने अपने सभी सांसदों से आव्हान किया कि सभी अपने अपने संसदीय क्षेत्र में एक गाँव को गोद लेकर उसे विकसित करे। जबलपुर सांसद और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने भी बरगी विधानसभा में स्थित कोहला गांव को गोद लिया। राकेश सिंह ने शुरुआती दौर में तो गाँव का हालचाल जाना कुछ योजनाओं का क्रियान्वयन भी किया।पर जैसे जैसे समय बीतता गया वैसे वैसे सांसद राकेश सिंह अपने गोद लिए गाँव को भूलते गए। बीते पाँच सालों के दौरान कोहला गांव का विकास सिमट कर रह गया।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष और जबलपुर सांसद राकेश सिंह के द्वारा गोद लिया गाँव कोहला आज भी मूलभूत सुविधाओं से महरूम है। कहने को सड़के,बिजली और पानी की व्यवस्था तो गई पर जमीनी स्तर पर ग्रामीणों के लिए वो न के बराबर।गाँव मे सड़क तो बनी पर भ्रष्टाचार के चलते चंद सालों में ही खराब हो गई।गाँव मे बिजली के खंभे तो लगे है पर लाइट दिन में कभी कभी ही दर्शन देती है।गाँव का शिक्षा का स्तर भी बेहद गिरा हुआ है।गाँव मे स्कूल तो 10 वी तक है पर 8,9 और 10 में पढ़ने वाले छात्रों से सही ढंग से अपना नाम तक लिखते नही आता है।10 क्लास में पड़ने वाले 50 छात्रों में से सिर्फ 1 या 2 छात्र बमुश्किल पास हुए।इस सबके बीच बात ये सामने आ रही है कि क्लास 6 से 10 के बीच मात्र 2 शिक्षक है जो कि ज्यादातर समय अपने कामो में व्यस्त रहते है। 

सांसद राकेश सिंह के द्वारा गोद लिए गांव कोहला में रहने वाली महिला रमा बाई से जब सांसद का नाम पूछा तो उसे वो भी पता नही थी। वही महिला ने अपने गाँव की सबसे मुख्य समस्या को भी हमसे साझा किया। महिलाओ का कहना था कि दो डिब्बे पानी के लिए दिनभर खड़ा रहना पड़ता है।गाँव के बाहर जहाँ तहां तालाब बोर है तो साइकिलों से पानी लाना पड़ता है।वही सांसद राकेश सिंह के गाँव कोहला में खुले आम शराब भी बिक रही थी जिसका महिलाओ ने विरोध भी किया पर जब इस और कुछ नही हुआ तो महिलाएं भी शांत हो गई।इधर अपने द्वारा गोद लिए गाँव कोहला की समस्या को लेकर जब हमने सांसद राकेश सिंह से बात की तो उनका जवाब था कि अब कोहला गाँव की ढफली को बाजना बंद कर दे।राकेश सिंह की माने तो कोहला गाँव मे जो भी आवश्यक कार्य थे वो प्रायः पूरे हो चुके है और जो बचे हुए है वो हम करेंगे।कोहला के विकास को लेकर राकेश सिंह ने कांग्रेस पर ठीकरा फोड़ते हुए कहा कि उन्होंने कोहला और आदिवासियों का जमकर शोषण किया है।कांग्रेसियों ने कभी भी कोहला गाँव के विकास के विषय मे ध्यान नही दिया।|