भारत सरकार का स्वच्छ भारत अभियान संस्कारधानी जबलपुर में फेल,शौचालय की नहीं हो रही देखरेख

 

जबलपुर/संदीप कुमार
भारत स्वच्छ अभियान के तहत मध्यप्रदेश के संस्कराधानी जबलपुर में स्वच्छता का पाठ पढ़ाने के लिए कई सार्वजनिक शौचालय और सामुदायिक शौचालय को बनाया गया है, पर वर्तमान में इन शौचालय की हालत ऐसी है कि जहाँ पर इनकी देखरेख करने वाले है, वहाँ तो स्वच्छता है पर जहाँ देखरेख नही होती वहाँ की हालत बस से बदत्तर। हालांकि निगम अधिकारियों का दावा है कि स्वच्छता का पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

जबलपुर में बने है 81 सार्वजिनक शौचालय-100 सामुदायिक शौचालय
भारत स्वच्छ अभियान के तहत जबलपुर शहर में नगर निगम ने करीब 81 सार्वजनिक शौचालय और 100 सामुदायिक शौचालय बनवाए है। सार्वजनिक शौचालय को नगर निगम ने ठेके में दिया है जबकि समुदायिक शौचालय की देखरेख उपयोग करने वाले करते है।

हर 1 किलोमीटर के अंतराल में होना चाहिए सार्वजिनक शौचालय
सरकार की गाईडलाईन के मुताबिक शहर में हर एक किलोमीटर में सार्वजानिक शौचालय होना अति आवश्यक है। पर जब शहर में इसकी हकीकत जानी तो पाया कि गोरखपुर से लेकर मेडिकल तक जो कि करीब पाँच किलोमीटर का रास्ता है, वहाँ पर सिर्फ एक या दो ही सार्वजनिक शौचालय है। ऐसे में कई मर्तबा लोगो को परेशान भी होना पड़ता है।

शहर की जनसंख्या के अनुपात में बने है शौचालय

जबलपुर नगर निगम में शहर की जनसंख्या और क्षेत्रफल के अनुपात को ध्यान में रखते हुए पूरे शहर में करीब 81 सार्वजनिक शौचालय और 100 सामुदायिक शौचालय बनवाए थे, जिन्हें कि लोग उपयोग कर रहे है। वर्तमान में जबलपुर शहर की जनसंख्या करीब 20 लाख है ऐसे में जनसख्या के हिसाब से सार्वजनिक और सामुदायिक शौचालय उपलब्ध करवाने की कोशिश जबलपुर नगर निगम ने की है।

सामुदायिक शौचालय की स्थिति खराब

जबलपुर शहर में सिर्फ वही सार्वजनिक शौचालय कुछ हद तक ठीक है जिन्हें की ठेके में प्राइवेट संस्था चला रही है। वही दूसरी और वर्तमान में अगर देखे तो सामुदायिक शौचालय की स्थिति बहुत ही खराब है। यहाँ न ही निगम सफाई पर ध्यान देती है और न ही देखरेख पर।वही इसके अलावा शहर में हर 100 से 200 मीटर की दूरी पर बनाए गए शौचालय की बात करे तो वहाँ की हालत और भी बुरी है चारो तरफ फैली गंदगी से लोग शौचालय का उपयोग करना ही पंसद नही करते है।

थर्ड जेंडर के लिए भी होगी सार्वजनिक शौचालय में व्यवस्था

हाल ही में केंद्र सरकार की नई गाइडलाइंन जारी हुई है जिसमे अब पब्लिक टॉयलेट में थर्ड जेंडर के लिए भी सीट लगवाई जाएगी,यह व्यवस्था करने में जबलपुर नगर निगम जुट चुका है।एक सीट महिला तो एक सीट पुरुष प्रशाधन में लगाई जा रही है।इसके अलावा नगर निगम एक स्टीकर भी लगा रहा है।