अंधविश्वास-जादू टोना क्यो हो रहा है व्यक्तियों पर हावी, जाने हमारी खास खबर में, 10 दिन में 3 हत्या-शक बना जादू टोना

21वी सदी में जीने के बाद भी आज भारत मे अंधविश्वास जादू टोना चरम सीमा है। यही जादू टोना कई बार शक में जान भी ले लेता है। बात करे अगर संस्कारधानी जबलपुर की तो यहां महज 10 दिन के भीतर 3 हत्या जादू टोने के शक में हुई है।

जबलपुर, संदीप कुमार। 21वी सदी में जीने के बाद भी आज भारत मे अंधविश्वास जादू टोना चरम सीमा है। यही जादू टोना कई बार शक में जान भी ले लेता है। बात करे अगर संस्कारधानी जबलपुर की तो यहां महज 10 दिन के भीतर 3 हत्या जादू टोने के शक में हुई है। हत्या आदिवासी बहुल इलाका कुंडम सहित माढ़ोताल और खमरिया में हुई सभी हत्या के पीछे जादू टोने का अंधविश्वास बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें – Birthday spacial : आइए जाने Samantha से जुड़ी कुछ अनजानी बातें

कुंडम में गुनिया की हत्या कर लाश टांग दी पेड़ पर
जादू टोने के शक पर कुंडम में 50 साल के गुनिया की हत्या कर शव को पेड़ पर टांग दिया। कुंडम थाना के उचेहरा में 10 अप्रैल को गुनिया सुनील बरकड़े की हत्या हुई थी। सुनील की हत्या की वजह झाड़ फूंक थी, हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि जवारे विसर्जन के दौरान मुन्नू और फूल सहाय के परिवार में दो बच्चियों को भाव आ गया था और इसी भाव को उतारने के लिए दोनों बच्चियों को लेकर सुनील बरकड़े के पास लेकर पहुंचे और बच्चों के भाव उतारने को कहा पर जब बच्चियां ठीक नही हुई तो दोनो ने मिलकर गुनिया सुनील की हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें – IPL के इतिहास में किस खिलाड़ी ने 2 अलग टीमों के खिलाफ 1000 रन बनाए?

20 अप्रैल को जादू टोना के शक पर पोता ने दादा की हत्या कर दी
माढ़ोताल इलाके में 71 वर्षीय नेतराम अहिरवार का कत्ल उनके पोते ने ही किया है। पोते को शक था कि दादा जादू टोना करते हैं इसलिए उसके बच्चे नहीं हो पा रहे हैं। पोते ने दादा पर तलवार से 17 बार वार करते हुए जान ले ली। पुलिस ने मृतक नेतराम अहिरवार के पोते संदीप अहिरवार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी संदीप अहिरवार ने जादू टोने के अंधविश्वास के कारण हत्या करने की बात कबूल की है।

यह भी पढ़ें – 2015 से देवबंद दारूल उलूम में पढ़ रहे बांग्लादेशी स्टूडेंट को ATS ने किया गिरफ्तार

खमरिया में सिरफिरे ने बुजुर्ग दम्पति पर किया हमला
खमरिया में कपिल यादव नाम के व्यक्ति ने बुजुर्ग दम्पति पर तलवार से हमला कर दिया था। घटना में महिला की मौत हो गई थी जबकि उनके पति की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है। पुलिस ने हत्यारे कपिल यादव को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी कपिल यादव को शक था कि दोनों झाड़ फूक करते है इसलिए वह एवं उसका परिवार परेशान रहता है। पुलिस ने जादू टोने से जुड़े सभी हत्या के मामलों का खुलासा करते हुए आरोपीयो को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें – गर्मियों में हमेशा पेट रहेगा ठंडा बस अपनी डाइट में शामिल करना होगा ये चीजें

बताया जा रहा है कि अंधविश्वास में व्यक्ति सोचने समझने की क्षमता खो देता है और जादू टोने की जद में फंसकर हत्या जैसी घटना को अंजाम दे दिया करता है। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मनोचिकित्सक बताते है कि अंधविश्वास जादू टोने की प्रवत्ति अलग अलग तरह की होती है। डॉक्टरो की माने तो अगर किसी व्यक्ति में जादू टोने, झाड़ फूंक को लेकर वहम होता है तो वह दिमागी बीमारी होती है जिसे की सीजोफोनिया-डिसऑर्डर कहते हैं। इस बीमारी में व्यक्ति विशेष को वहम की स्थिति बन जाती है जिससे वह जादू टोना और झाड़-फूंक समझता है और कई बार वह गंभीर अपराधों को भी अंजाम देता है।