पुरानी रंजिश को लेकर युवक की हत्या

संदीप कुमार।जबलपुर

महज 24 घण्टे के दौरान होली पर्व में जबलपुर में चाकूबाजी की दो घटना ने पूरे शहर की पुलिस व्यवस्था को हिला दिया है।कुछ ही घण्टो की अंतराल में हुई दोनो ही हत्या के आरोपी जहाँ पुलिस गिरफ्त से बाहर है वही पुलिस की नाकामयाबी पर भी सवाल उठने लगे है।कल जहाँ गोकलपुर में बलराम पटेल की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई थी तो वही आज हनुमान ताल में कन्हैया चौधरी नाम के युवक को चाकू से गोद दिया गया।

मौके पर ही कन्हैया की मौत हो गई।इन दोनों ही चाकूबाजी की घटना के बाद से पूरे शहर में पुलिस के खिलाफ कार्यवाही को लेकर सवालिया निशान उठने लगे हैं।हनुमानताल थाना में रहने वाला कन्हैया चौधरी की कुछ लोगो ने सिर्फ इसलिए हत्या कर दी क्योकि वह आरोपियों से विवाद कर रहा था।घटना के बाद से जहा इलाके में शोक का माहौल व्यापत है वही पुलिस भी आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

कल भी हुई थी चाकूबाजी में हत्या

होली पर्व में ससुराल आये एक युवक को इलाके के चार से पांच युवकों ने मिलकर चाकूओं से गोद दिया।वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी जहाँ मौके से फरार हो गए वही परिजनों ने घायल युवक को ईलाज के लिए जिला अस्पताल लेकर आए जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।जानकारी के मुताबिक मृतक युवक का नाम बलराम पटेल था जो कि रामपुर का रहने वाला था।आज होली के पर्व पर मृतक बलराम पटेल अपने ससुराल गोकलपुर पंचायती कुआं आया हुआ था।होली त्योहार मनाने के बाद शाम को जब बलराम अपने घर जाने की तैयारी कर रहा था तभी इलाके के ही हिमांशु, सनी और अमन से गाड़ी स्टार्ट करने को लेकर बलराम से विवाद हो गया।

मामूली रूप से शुरू हुआ बलराम का विवाद कुछ देर में इतना बढ़ गया कि हिमांशु और उसके साथियों ने चाकू निकाला और बलराम पर हमला कर दिया।तीनो ने एक के बाद एक कई वार उस पर किए।शोर की आवाज सुनकर बलराम के ससुराल पक्ष के लोग भी बाहर निकल आए और उसे बचाने लगे पर तब तक बहुत देर हो चुकी थी।बलराम के परिजन उसे पहले रांझी सिविल अस्पताल और फिर जिला अस्पताल लेकर पहुँचे जहाँ उसकी मौत हो चुकी थीं।