करोड़पति निकला 9 हजार वेतन पाने वाला सोसाइटी प्रबंधक

lokayukt-raid-on-society-manager's-house-in-katni-seized-property-worth-more-than-1-crore

कटनी। मध्यप्रदेश के कटनी जिले में लोकायुक्त की टीम ने सहायक समिति प्रबंधक के घर छापेमार कार्रवाई की है। टीम को प्रबंधक के घर से प्रारंभिक जांच में करीब 1 करोड़ 10 लाख रुपए की संपत्ति मिली है।यह कार्रवाई आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में जबलपुर लोकायुक्त द्वारा की गई है।लोकायुक्त ने दस्तावेज और करीब एक लाख रुपए नकद जब्त कर सहायक समिति प्रबंधक व उसके बेटे के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

दरअसल,  जबलपुर लोकायुक्त को बड़वारा थाने के देवरी गांव निवासी विलायत कला गांव के सहायक समिति प्रबंधक हेतराम पटेल के बार में आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की जानकारी मिली थी। इसके बाद टीम ने बुधवार सुबह करीब 6 बजे प्रबंधक के घर दबिश दी। प्रारंभिक जांच में सहायक समिति प्रबंधक हेतराम पटेल व उसके पारिवारिक सदस्यों के नाम से करीब 1 करोड़ 10 लाख रुपए की संपत्ति मिली है।इसमें करीब 45 लाख रुपए की कृषि भूमि, देवरी गांव में 25 लाख का एक मकान, 6 दुकान, कटनी के रोशन नगर में 20 लाख का एक दो मंजिला मकान समेत 35 लाख के पिकअप, बोलेरो, कार और स्कूटी व बाइक शामिल हैं।लोकायुक्त ने दस्तावेज और करीब एक लाख रुपए नकद जब्त कर सहायक समिति प्रबंधक व उसके सेल्समेन बेटे आशीष देव पटेल के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। हेतराम पटेल 1993 से 2014 तक सेल्समैन था। 2014 में पदोन्नत होकर सहायक समिति प्रबंधक बना। 2014 से 2019 तक वह इस पद पर रहा। अब तक की सेवा के दौरान उसकी अर्जित आय करीब 15 लाख रुपए होनी चाहिए थी।

लोकायुक्त के छापे में मिली यह सम्पत्ति

लोकायुक्त डीएसपी जे.पी.वर्मा ने बताया कि प्रारंभिक जांच में हेतराम पटेल एवं उसके पुत्र आशीष  की एक करोड़ दस लाख की सम्पत्ति का खुलासा हुआ है। अभी बैंक लॉकर एवं अन्य सम्पत्तियों की जानकारी नहीं मिली है। बैकों को हेतराम पटेल एवं उसके पुत्र के खातों के संबंध में पत्र लिखा है। कटनी के रोशन नगर स्थित मकान में हेतराम पटेल का साला निवास करता है।  डीएसपी जेपी वर्मा ने बताया छापे में बुलेरो, पिकअप वाहन, पानी का टेंकर, स्कूटी, मोटर साइकल, 33 लाख रुपए का घरेलू सामान, 45 लाख रुपए की जमीन, एक लाख रुपए नगद, सोने, चांदी के जेवर, गांव में एक मकान, 6 दुकान, कटनी रोशनपुरा में एक आलीशान मकान मिला है.

कर्ज माफी में हुई थी एफआईआर

लोकायुक्त डीएसपी श्री वर्मा ने यह भी कहा कि हेतराम पटैल ने एमपी में किसान कर्ज माफी के मामले में जो सूची बनाई, उसमें दो-दो नाम जोड़े दिए है, इस बात का खुलासा होने पर भी हेतराम के खिलाफ कटनी में प्रकरण दर्ज किया गया है। इसके अलावा बेटे ने भी पिता की राह ��र चलते हुए अपने पद का दुरुपयोग करते हुए आय से अधिक संपत्ति एकत्र की है।फसल ऋण माफी में गड़बड़ी की शिकायत पर सहायक प्रबंधक हेतराम पटेल के खिलाफ कुछ दिनों पहले बड़वारा थाना में धारा 420 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया था। पिछले दिनों जनसुनवाई में भी उसकी आय से अधिक सम्पत्ति की शिकायत की गई थी।