लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई, 9 तत्काल प्रभाव से निलंबित, 23 को नोटिस, वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश

MP Suspend : मध्यप्रदेश में लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई की जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार भरी मंच से अधिकारी कर्मचारी को निलंबित कर रहे हैं। इसके अलावा कई अधिकारी कर्मचारियों को नोटिस भी दिए गए हैं। नई कार्रवाई सीढ़ी जिले में की गई है। जहां मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत आयोजित स्वीकृति पत्र वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक्शन मोड देखने को मिला। उन्होंने भरे मंच से ही डीईओ, नैकिन के प्रभारी तहसीलदार और कटनी मनरेगा अधिकारी को निलंबित कर दिया।

3 निलंबित

सीएम शिवराज ने कहा कि मनरेगा परियोजना अधिकारी प्रदीप शुक्ला के खिलाफ कोई शिकायत मिली थी। जिसके कारण उन्हें निलंबित किया गया है। इसके अलावा आंचल अग्रहरि प्रभारी तहसीलदार रामपुर पर नामांतरण प्रकरण में लापरवाही पर कार्रवाई की गई है।पवन सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी, रिश्वत मांगने का ऑडियो वायरल होने के बाद निलंबित किए गए हैं।

आरक्षक निलंबित

एक अन्य करवाई राजधानी में की गई है।कोलार थाने के एक आरक्षक को पुलिस उपायुक्त ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। आरक्षण पर आरोप है कि व्यापारी की दुकान पर घुसकर आरक्षक द्वारा रीवा जी की गई है। साथ ही व्यापारी से मारपीट की गई। पूरा वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने के बाद मामला पुलिस उपायुक्त के संज्ञान में आया। जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है।

सीएमएचओ-CMO निलंबित

इसके अलावा मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत स्वीकृति पत्र वितरण कार्यक्रम में शामिल होने के साथ ही सीएमएचओ की लापरवाही की शिकायत मिलने के बाद डीसी चौरसिया और बिछुआ सीएमओ को मंच से ही निलंबित किया गया है।

महिला अधीक्षक निलंबित

एक अन्य कार्रवाई बैतूल जिले में की गई है। जहां एक छात्रा को जूते की माला पहनाकर घुमाने का मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक छात्रावास के अधीक्षक द्वारा पांचवी कक्षा की एक छात्रा को पैसे चुराने के संदेह में कथित तौर पर झूले जूते की माला पहनाकर घुमाया गया था। मामला सामने आने के बाद जिला प्रशासन द्वारा जांच के आदेश दिए गए थे। इस मामले में महिला अधीक्षक को पद से हटा दिया गया है।

प्रभारी संस्था प्रबंधक निलंबित

एक कार्रवाई देवास जिले में की गई है जहां उपायुक्त सहकारिता द्वारा जिले के समस्त किसानों को यूरिया खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए थे कलेक्टर द्वारा जारी निर्देश के मुताबिक खाद्य वस्तुओं को सुचारू रूप से संचालन किया जाना था। इसके लिए कलेक्टर द्वारा निरंतर जांच और निरीक्षण कार्य किए जा रहे थे।

संस्था को प्राप्त यूरिया के भंडारण संस्था गोदाम में ना किया जा कर अन्यत्र भवन से किए जाने और यूरिया वितरण में गंभीर अनियमितता पाए जाने पर प्रभारी संस्था प्रबंधक हरिओम पवार को उपायुक्त सहकारिता के निर्देश पर निलंबित कर दिया गया है।

CMO निलंबित

एक अन्य कार्रवाई बड़वानी जिले में की गई है। जहां से CMO माया राम सोलंकी को नगरीय प्रशासन द्वारा शनिवार को 23 दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी के नियम विरुद्ध नियुक्ति देने पर निलंबित कर दिया गया है।

22 निजी अस्पताल को नोटिस

इसके अलावा कटनी जिले में एक कार्रवाई की गई है। जहां नियम विरुद्ध तरीके से बिना फायर एनओसी के शहर में 22 निजी अस्पताल चल रहे हैं। जिसके बाद नगर निगम द्वारा इन अस्पतालों को नोटिस जारी किया गया है। 7 दिन में पूरी व्यवस्था करते हुए उसी के लिए आवेदन करने के लिए कहा गया है।

कारण बताओ नोटिस और एक वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश

एक अन्य कार्रवाई नरसिंहपुर जिले में की गई है। जहां कलेक्टर ने करेली में जनजातीय कार्य विभाग के अंतर्गत अनुसूचित जाति वालों को उत्कृष्ट छात्रावास और बाबू जगजीवन राम अनुसूचित जाति सीनियर कन्या छात्रावास का निरीक्षण किया। इस दौरान उत्कृष्ट छात्रावास की व्यवस्था सही नहीं पाए जाने पर छात्रावास अधीक्षक को कारण बताओ नोटिस देने और एक वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश दिए गए हैं।