खाद्य विभाग ने 250 से अधिक चावल की बोरियां जब्त की,गोडाउन सील

खंडवा/सुशील विधानी

खंडवा में राशन का कुशासन थम नहीं पा रहा है। तमाम कार्रवाई के बावजूद भी राशन की कालाबाजारी धड़ल्ले के साथ हो रही है। खंडवा शहर में ही राशन के गेहूं और चावल के ट्रक कई दफा पकड़े जा चुके हैं।

खंडवा जिला सरकारी अनाज हेराफेरी करने के मामले में सबसे आगे हैं क्योंकि जिला प्रशासन कार्रवाई तो करता है लेकिन कुछ दिन बाद माफिया फिर से सक्रिय हो जाता है। जिले में सरकारी गेहूं चावल बड़े पैमाने पर अन्य राज्यों में सप्लाई हो रहा है। कार्रवाई के नाम पर विभाग के अधिकारी केवल कागजी पूर्ति करते हैं जिसका नतीजा होता है माफिया का फिर से सक्रिय होना। पहले भी कई बार गेहूं माफिया जो कि सरकारी पीडीएफ का अनाज बड़े पैमाने पर सप्लाई करता था उस पर कार्रवाई हुई थी। लेकिन कार्रवाई को ज्यादा समय बीता ही नहीं उससे पहले मुंदी रोड पर सोनी गोडाउन पर मुखबिर की सूचना पर दबिश देने तक अनाज माफिया का राज फिर से खुल गया। यहां ढाई सौ से अधिक चावल की बोरियां पकड़ी गई है। खाद्य विभाग के अधिकारी कार्रवाई करने पहुंचे, बीके शुक्ला ने बताया कि गोडाउन को सील किया गया है। सोनी वेयर हाउस के नाम से गोडाउन है किसी सोनी व्यक्ति संचालित कर रहा है दो सौ से ढाई सौ बोरी चावल की मिली है। इसकी जांच की जा रही है कि चावल कहां से आया है और किस व्यक्ति का है तथा इस गोडाउन में क्यों रखा था। फिलहाल गोडाउन को सील कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here