सियासी हलचल के बीच नारायण पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज को लिखा पत्र, की यह मांग

नारायण पटेल

खंडवा, सुशील विधानी। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना महामारी की दूसरी लहर को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन (Corona Curfew)) को अब प्रशासन संक्रमण की घटती दर को देखते हुए धीरे-धीरे हटा रहा है। अब वह सख्ती भी नहीं अपनाई जा रही जो अप्रैल और मई के महीने में प्रशासन और पुलिस प्रशासन द्वारा की गई थी। इस बीच बीजेपी विधायक नारायण पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) और आध्यात्म(धर्मस्व) मंत्री ऊषा ठाकुर को पत्र लिखकर ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग (Omkareshwar Jyotirlinga)  मुख्य मंदिर सहित प्रमुख धार्मिक स्थल खोलने की मांग की है।

यह भी पढ़े.. AIIMS की रिपोर्ट में खुलासा- आखिर कोविशील्ड या कोवैक्सीन के बाद भी क्यों हो रहे लोग संक्रमित

खण्डवा जिले (Khandwa District) की मांधाता विधानसभा सीट (Mandhata assembly seat) से बीजेपी विधायक नारायण पटेल (BJP MLA Narayan Patel) ने इसके पीछे तर्क दिया है कि इन धार्मिक स्थलों से कई परिवारों की आजीविका लगी हुई है, और वह परिवार इस कोरोना संकट में बहुत परेशानी से लंबे समय से जूझ रहे हैं। अगर धार्मिक स्थल खोल दिए जाएंगे और मंदिरों में दर्शन की व्यवस्था पुनः प्रारंभ हो जाएगी तो इनकी रोजी रोटी का संकट उत्पन्न नहीं होगा।

पत्र में विधायक नारायण पटेल ने कहा कि भिखारी से लेकर मंदिर के बाहर फुल-प्रसाद सहित धार्मिक वस्तु भण्डार की दुकान चलाने वाले एवं चप्पलों को सहेज कर रखने वाले सहित अन्य छोटो-छोटे दुकानदार होटल, भोजनालय सहित पांडित्यकर्म कर पुजन-पाठ करने वाले इन सभी की आजीविका इन धार्मिक स्थलों से लगी हुई है इसलिए मंदिरों और अन्य धार्मिक स्थलों को खोला जाना चाहिए।साथ ही मुख्यमंत्री  से यह भी मांग की है कि धार्मिक स्थलों पर भीड़ नियंत्रण के लिए स्थानीय प्रशासन (Khandwa Police and Administration) कोई ऐसी वैकल्पिक व्यवस्थाओं का निर्माण सुनिश्चित करें, जिससे लोगों को दर्शन भी मिल सके और वह संक्रमण से भी बच सके।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र में 6 दिन पहले मानसून धमाकेदार एंट्री, इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

बता दें कि नारायण पटेल की विधानसभा में ओंकारेश्वर ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर विश्व प्रसिद्ध मंदिर है । यहां पर लाखो की संख्या में लोग प्रतिवर्ष आते हैं और नर्मदा स्नान कर ओंकारेश्वर महादेव के दर्शनों उपरांत ओंकार पर्वत की परिक्रमा कर पुण्य लाभ लेते हैं।तीर्थनगरी ओंकारेश्वर करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था का केन्द्र हैं। इसलिए पटेल ने मुख्यमंत्री सहित मध्यप्रदेश शासन के आध्यात्म विभाग की मंत्री ऊषा ठाकुर(दीदी) से यह मांग की है।

नारायण पटेल