स्कूली शिक्षा में मध्य प्रदेश का देश में 20वां स्थान, शैक्षणिक समानता में हासिल की उत्कर्ष श्रेणी

Performance grading Index

Performance Grading Index: मध्य प्रदेश में सीएम राइस स्कूल खोले जाने के साथ शिक्षकों को लगातार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इससे शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार के साथ बच्चों की सीखने समझने की क्षमता में भी इजाफा देखने को मिला है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से हाल ही में स्कूल ग्रेडिंग परफॉर्मेंस इंडेक्स जारी किए गए हैं। इस सूची में 13 राज्य आकांक्षी 1 ग्रेड हासिल करने वाले बने हैं, जिसमें मध्यप्रदेश सातवां है और देश भर में मध्य प्रदेश की स्कूल शिक्षा 20 वें स्थान पर है।

मध्य प्रदेश को कितने अंक

स्कूलों में स्टूडेंट्स द्वारा सीखने की क्षमता और शैक्षिक गुणवत्ता में मध्यप्रदेश को 240 में से 72.8 अंक प्राप्त हुए है। दूसरी तरफ स्कूल अधोसंरचना में मध्य प्रदेश काफी पीछे है। शाला त्यागी, नामांकन और एनईपी में 80 में से 50.2, इक्विटी में 260 में से 222.2, टीचर एजुकेशन और ट्रेनिंग में 100 में से 64.7, इन्फास्ट्रक्चर में 190 में से 57.3, गवर्नेंस प्रोसेस में 130 में से 55.2 अंक एमपी को मिले हैं।

20 वें स्थान पर प्रदेश

मध्यप्रदेश में आकांक्षी 1 श्रेणी में 13 राज्यों के साथ अपनी जगह बनाई है। इन राज्यों को 1000 में से 521 से 580 अंक मिले हैं। 522 अंक के साथ मध्यप्रदेश का देश में 20 वां स्थान है। शैक्षणिक समानता में प्रदेश में उत्कर्ष श्रेणी हासिल की है।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News