देवेंद्र बम्हे गैंग के 2 शातिर शार्प शूटर गिरफ्तार, महंगे विदेशी हथियार और जिंदा कारतूस जब्त

503

मंदसौर ।

पुलिस ने पंजाब के देवेंद्र बम्हे गैंग के दो शातिर शार्प शूटर बदमाशों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से महंगे विदेशी हथियार जिंदा कारतूस और एक कार सहित 5 फर्जी नंबर प्लेट जप्त की है,पकड़े गए बदमाश पंजाब में हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, फिरौती सहित कई गंभीर अपराधों में फरार चल रहे हैं।

मंदसौर में पुलिस की चेकिंग देखकर कार में सवार बदमाश भागे और जा पहुंचे चंबल नदी में, खड़ावदा क्षेत्र की चंबल नदी में आगे रास्ता ना दिखा तो वाटर बोट चालक को हथियार दिखाकर नाव के सहारे जा पहुंचे चंबल नदी के पानी में और खड़े हो गए एक टापू पर, मंदसौर जिले की करीब 4 थानों के 100 पुलिस जवानों और अधिकारियों ने बदमाशों को चारों ओर से जब घेरा तो बदमाशों ने पुलिस पर फायर कर दिया, जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की, मौके पर हजारों लोगों की भीड़ जमा हो गई, बदमाश पानी के अंदर टापू पर थे और पुलिस बाहर, चार थाना क्षेत्र की पुलिस जब वहां पहुंची तो उन्हें देखकर बदमाश घबरा गए लेकिन फिर भी पुलिस पर फायरिंग करते रहे, जिसमें पुलिस के वाहन को भी गोली लगी,लेकिन गनीमत यह रही कि कोई हताहत नहीं हुआ, 4 घंटे की कड़ी मशक्कत मशक्कत के बाद आखिर दोनों बदमाशों को जब पकड़ा तो उन्होंने एक बड़ा खुलासा किया है, पकड़े गए दोनों बदमाश पंजाब के देवेंद्र बमहै गैंग के शार्प  शूटर है और पंजाब में हत्या,हत्या के प्रयास, लूट फिरौती सहित कई संगीन अपराधों में फरार चल रहे थे, बदमाशों ने पुलिस को बताया किस 7 नवंबर को फरीदकोट पंजाब के गांव कोर्ट सूचियां में रहने वाले सेवादार दयाल सिंह को छाती में छह गोली मारकर हत्या कर दी और फरार होकर अपने दोस्त पुष्कर के पास आए थे, यह पुष्कर कौन है पुलिस इसकी अब तलाश कर रही है। बदमाशों ने बताया कि पुलिस एनकाउंटर में देवेंद्र की मौत के बाद में सुखप्रीत सिंह इनका गैंग लीडर है।

पुलिस ने जो दोनों शातिर आरोपी पकड़े हैं इनके पास से तीन विदेशी पिस्टल जिनकी कीमत ₹300000 से ज्यादा है, 101  जिंदा कारतूस और तीन खाली कारतूस के अलावा एक स्विफ्ट डिजायर कार और 5 फर्जी नंबर प्लेट भी जप्त की है,पुलिस ने बताया कि इनके पास से केवल ₹200 नकदी प्राप्त हुए हैं जो किसी के गले नहीं उतर रहा है. इतने बड़े अपराधी इतने महंगे हथियार और इतनी शातिर गैंग के बदमाश जब पुलिस के हाथ आए और उनके पास नकदी केवल ₹200 मिले यह समझ से परे हैं, फिलहाल पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही है और इनके द्वारा घटित पुराने अन्य अपराधों के बारे में भी तफ्तीश कर रही है, मन्दसौर पुलिस ने पंजाब पुलिस को भी सूचना दी है और जल्द ही पंजाब पुलिस मन्दसौर पहुंच रही है और इनके पुराने अपराधिक रिकॉर्ड के बारे में नया अपडेट करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here