मुरैना में फिर कोरोना विस्फोट, एक दिन में 73 पॉजिटिव मिलने से हड़कंप, सीएम ने ली बैठक

मुरैना| संजय दीक्षित| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) का मुरैना (Morena) जिले में लगातार कोरोना विस्फोट (Corona Blast) हो रहा है| कर्फ्यू लगने के बाद प्रशासन हरकत में आया है तो वहीं जनता में भी महामारी के प्रति दहशत बनती जा रही है। मंगलवार को सर्वाधिक 73 पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया है| पिछले 10 दिन से लगातार आ रही रिपोर्टों के अनुसार कोरोना महामारी के संक्रमित मरीजों की संख्या का आंकड़ा 309 के पार पहुँच गया है । जिसमें कोरोना से पीडित मुरैना जिले में अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है।

मंगलवार को प्रशासनिक जानकारी के अनुसार 73 मरीज संक्रमित पॉजीटिव पाये गए हैं। इसके साथ ही स्टेशन रोड निवासी मनोज बांदिल की संक्रमण से मौत हो गई है। संक्रमित मरीजों की संख्या बीते रोज 242 के लगभग थी। जिसके बाद 73 कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट मिलने के बाद 315 के लगभग पहुंच गयी है। जिसमे से आज 1 व्यक्ति की मौत 5 लोगों को डिस्चार्ज किया गया था। जिसके बाद एक्टिव केस का आंकड़ा 309 पर पहुँच गया। बढते संक्रमण को लेकर प्रशासन के अधिकारी जनप्रतिनिधि और व्यापारी सर्वहारा वर्ग में मायूसी छाई है।

गुरूवार तक कर्फ्यू
मंगलवार से और आगामी गुरूवार तक शहर में कर्फ्यू घोषित किया गया है। परिस्थितियों के मुताबिक मुरैना का सबसे बडा संक्रमण काल वर्तमान में बीत रहा है जिसको लेकर आम आदमी महामारी के खतरे से अछूता नहीं रहा है। अब देखना है कि आने वाले समय में प्रशासनिक अधिकारी इस महामारी से आम आदमी को सुरक्षित रखने के लिए क्या कारगर कदम उठाते हैं।कलेक्टर शश्रीमती प्रियंका दास ने 1 जुलाई से पूरे जिले किल कोरोना का अभियान शुरू किया है जिसमे डोर टू डोर सर्वे कराया जाएगा की कोंन व्यक्ति खांसी ,जुखाम और सांस लेने से पीड़ित हैं।उनकी जांच की जाएगी।

सीएम ने की मुरैना की समीक्षा
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के चंबल क्षेत्र में कोरोना के नियंत्रण के लिए जिला कलेक्टरों सहित प्रभारी अधिकारियों से सजग रहकर समस्या बढ़ने के पूर्व ही नियंत्रण के प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पूरे प्रदेश में एक जुलाई से प्रारम्भ हो रहे ‘किल कोरोना अभियान’ का प्रभावी संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मुरैना जिले में कोरोना की समीक्षा करते हुए कहा कि एहतियातन लगाये गये कर्फ्यू को जारी रखा जाए। कमर कसकर रोग नियंत्रण का कार्य हो। मुरैना जिले के प्रभारी अधिकारी प्रमुख सचिव मलय श्रीवास्तव को उन्होंने स्थिति पर निरंतर निगाह रखने को कहा। सोमवार को मुरैना में 59 पॉजीटिव प्रकरण आने की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चिंता व्यक्त की और मुरैना की विस्तृत जानकारी प्राप्त की।